Home » बिजनेस आइडिया » मैरिज हॉल बिजनेस कैसे करें?

मैरिज हॉल बिजनेस कैसे करें?

Banquet Hall Business in Hindi यदि आपके पास बहुत ज्यादा निवेश के लिए पैसे हैं या फिर बहुत ज्यादा जमीन है तो ऐसे में आप मैरिज हॉल का बिजनेस शुरू कर के जिंदगी भर कमाई कर सकते हैं क्योंकि आज के समय में मैरिज हॉल व्यवसाय काफी प्रसिद्ध हो गया है। शहरों में अक्सर लोग अलग-अलग प्रकार के फंक्शन के लिए फिर चाहे वह शादी हो, बर्थडे पार्टी, शादी का सालगिरह या रिसेप्शन हो इत्यादि चीजों के लिए मैरिज हॉल को बुक करते हैं।

आज कल का यह ट्रेंड भी हो गया है लोग शादी  घर से ज्यादा मैरिज हॉल में करवाते हैं ऐसे में इस बिजनेस से काफी अच्छा खासा कमाया जा सकता है। यदि आप भी मैरिज हॉल का व्यवसाय शुरू करने का विचार कर रहे हैं लेकिन आपको नहीं पता कि किस तरीके से इस विषय को शुरू करें तो हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

Banquet-Hall-Business-in-Hindi
Image: Banquet Hall Business in Hindi

इस लेख में हम आपको मैरिज हॉल का व्यवसाय कैसे शुरू करें? इसके लिए कितना निवेश लगेगा? इसके लिए कौन से लाइसेंस बनवाने पड़ेंगे? साथ ही कितने जमीन की आवश्यकता है? और इससे आपको कितना फायदा होगा? इत्यादि जैसे बातों की चर्चा किए हैं।

नवीनतम बिजनेस आइडिया और पैसा कमाने के तरीके जानने के लिए हमारे वाट्सऐप पर जुड़ें Join Now
नवीनतम बिजनेस आइडिया और पैसा कमाने के तरीके जानने के लिए हमारे टेलीग्राम पर जुड़ें Join Now

मैरिज हॉल बिजनेस कैसे करें? | Banquet Hall Business in Hindi

मैरिज हॉल का बिजनेस कैसे शुरू करें?

यह एक बड़ा बिज़नेस है, जिस में आपको ज्यादा लागत लगानी पड़ेगी लेकिन उसमे मुनाफा भी काफी अच्छा रहते है। आपको एक बार ज्यादा निवेश करना पड़ेगा लेकिन मुनाफा आप हर साल करोड़ों रुपये में कमा सकते हो। इस बिज़नेस के लिए आपको काफी चीज़ों का ध्यान रखना पड़ेगा। इस आर्टिकल में हम आपको मर्रिज हॉल बिज़नेस की लागत, मार्कटिंग और मुनाफ़ा के बारे में जानकारी देंगे।

मैरिज हॉल का बिजनेस क्या है?

मैरिज हॉल का व्यवसाय ऐसा व्यवसाय है जिसमें आप अपने बड़े से जमीन पर एक बड़ा सा हॉल बनवाते हैं, जिसमें कुछ कमरे होते हैं और सभी प्रकार की सुख सुविधाएं जैसे बिल्कुल होटल में होती है ठिक उसी प्रकार सभी सुख-सुविधाओं के साथ किसी के शादी या अलग-अलग पार्टी की सारी जिम्मेदारी आप लेते हैं जिसमें खाना पीना सब कुछ शामिल होता है।

इसके बदले में आप उनसे पैसे चार्ज करते हैं। शहरों में कई लोग मैरिज हॉल का व्यवसाय चलाते हैं क्योंकि शहरों में ज्यादातर लोग अलग-अलग पार्टियों के लिए मैरिज हॉल बुक करते हैं ऐसे में जमीन खरीद कर या फिर खुद की जमीन पर सारी सुविधाओं के साथ लोगों को किराए पर देना ही मैरिज हॉल का व्यवसाय होता है।

मैरिज हॉल की बाजार में मांग

जैसे आपको पता है कि शादियों के समय शादियों को इंजॉय करने से ज्यादा घरवालों का टेंशन मेहमानों की खातिरदारी करने का होता है। उन्हें नाश्ता पानी खाना इत्यादि सभी चीजों को मैनेज करने की जिम्मेदारी लड़की और लड़के वाले पक्ष का होता है जिसके कारण वे शादी को अच्छे से इंजॉय नहीं कर पाते इन्हीं सब समस्याओं से निकलने के लिए आजकल ज्यादातर लोग मैरिज हॉल बुक करवाते हैं क्योंकि यह सारी सुविधाएं मैरिज हॉल वालों की तरफ से ही होता है जहां पर खाने-पीने से लेकर हर तरह की सुविधाएं वही लोग देते हैं।

जिससे लड़के और लड़की दोनों पक्ष वाले शादी को अच्छे से इंजॉय कर पाते हैं। और इसके अतिरिक्त जिन लोगों के पास ज्यादा जगह नहीं होता है वे भी मैरिज हॉल को बुक करवाते हैं ताकि 500 से 1000 मेहमान उनकी शादी को अटेंड कर सके। आजकल शादी ही नहीं बल्कि लोग बर्थडे पार्टी ,शादी का सालगिरा ,रिसेप्शन अलग अलग फंक्शन के लिए भी कई लोग मैरिज हॉल बुक करते हैं जिससे मैरिज हॉल का डिमांड भी काफी रहता है।

इस तरह मैरिज हॉल का व्यवसाय शुरू करके ना केवल शादियों के सीजन में ही बल्कि पूरे साल कमाई कर सकते हैं। इसीलिए मैरिज हॉल का व्यवसाय शुरू करना काफी फायदेमंद व्यवसाय होगा।

यह भी पढ़े कम मेहनत में ज्यादा मुनाफे वाले बिजनेस

मैरिज हॉल का बिजनेस के लिए लोकेशन

  • मैरिज हॉल के बिजनेस का लोकेशन आपके बजट के अनुसार हो सकता है क्योंकि बड़े-बड़े शहरों के लोकेशन का चयन करेंगे तो उसमें बजट ज्यादा लग सकता है और छोटे शहरों में किसी लोकल एरिया में लोकेशन चुनते हैं तो कम बजट में व्यवसाय शुरू हो सकता हैं इसलिए पहले बजट के अनुसार आपको इसके लोकेशन का चयन करना होगा।
  • इसके अतिरिक्त लोकेशन के चयन में इस बात का भी ध्यान रखना पड़ेगा कि वहां पर लोग आसानी से पहुंच सके मतलब आसपास का एरिया साफ सुथरा हो और सड़के बनी हो।
  • आप जिस भी लोकेशन को चुने वहां पर नेटवर्क की अच्छी सुविधा होनी चाहिए।

मैरिज हॉल का बिजनेस के लिए आवश्यक जगह

यदि आप एक सामान्य मैरिज हॉल शुरू करना चाह रहे हैं जो आपके आसपास के एरिया के सभी प्रकार के पार्टीज को संभाल सके तो 15 से 20 हजार के स्क्वायर फीट में आप यह व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

इतनी जमीन में आपका एक बड़ा सा हॉल होगा और साथ ही 5 से 6 रूम शौचालय के साथ होने जरूरी है।वे रूम लगभग लग्जरी रूम जैसे लगने चाहिए ताकि शादियों के सीजन में आने वाले गेस्ट को कुछ भी जरूरी काम हो तो रूम में ठहर सके।

शादियों का सीजन निकल जाने के बाद भी बहुत कई सारी सेमिनार ऐसे मैरिज हॉल में अटेंड होते हैं तो तभी भी उन्हें रूम की जरूरत पड़ जाती है इसीलिए मैरिज हॉल में रूम भी होना जरूरी है। और उन कमरों में सारी सुविधाएं होनी चाहिए जैसे कि कुर्सी, टेबल, बेड, पर्दे ताकि रूम अच्छे दिखें। इसके अतिरिक्त सुरक्षा के लिए आपको सीसीटीवी कैमरा भी लगवानी पढ़ेंगे।

मैरिज हॉल का बिजनेस के लिए इलेक्ट्रॉनिक सामान

जब आप एक मैरिज हॉल बनवाते हैं तो उसमें आपको कई सारे इलेक्ट्रॉनिक मशीनें भी लगवानी पड़ती है।उदाहरण के लिए पंखे। पूरे हॉल में इतने पंखे होने जरूरी है कि वह सभी एरिया को कवर कर सके और सभी एरिया में हवा दे सकें साथ ही एयर कंडीशनर भी जरूरी है।

आपके मैरिज हॉल में हर प्रकार की सामग्री होनी जरूरी है जिससे आप हर एक मौसम का माहौल दे सके। उदाहरण के लिए हीटर भी होना जरूरी है ताकि ठंडी के मौसम में गर्मी का माहौल बनाया जा सके।

मैरिज हॉल का बिजनेस के लिए कैटरिंग की सुविधा

मैरिज हॉल में सारी सुविधाएं मैरिज हॉल के तरफ से ही होती है जिसमें आपकी कैटरिंग और टेंट हाउस की सेवाएं भी शामिल है। हालांकि इसमें खर्चे बहुत आते हैं लेकिन यदि आपकी बजट बहुत कम है तो आप अपने आसपास के एरिया के सभी कैटरिंग सर्विस वाले से बात कर सकते हैं।

कोशिश करें आप ज्यादा से ज्यादा कैटरिंग सर्विस वाले से संपर्क बनाने की क्योंकि शादियों के सीजन में अक्सर सभी कैटरिंग वाले बहुत जल्दी बुक हो जाते हैं ऐसे में आपको कोई दिक्कत ना हो।

साथ ही आपको ऐसे कैटरिंग वालों से बात करके रखना पड़ेगा जो हर तरह के खाने पेश कर सके मतलब उनके मैन्यू में हर एक क्षेत्र का खाना मौजूद उदाहरण के लिए यदि आपका मैरिज हॉल ऐसे क्षेत्र में है जहां पर अलग-अलग राज्यों के लोग रहते हैं तो ऐसे में यदि कोई दक्षिण भारत के लोगों की शादी होती है तो उन्हीं के अनुसार भोजन की सुविधा देनी होगी।

मैरिज हॉल का बिजनेस के लिए टेंट हाउस और डिजे सर्विस

उसी के साथ आपको टेंट हाउस सर्विस वाले से भी बात करनी पड़ेगी और साथ ही डीजे वालों से भी संपर्क करके रखना पड़ेगा। क्योंकि आजकल की शादियों में डीजे बहुत सामान्य चीज है जो बहुत जरूरी है। हालांकि बजट अच्छी हो तो यह सारी सुविधाएं आप खुद ही कर सकते हैं। लेकिन बजट कम होने पर आपको अन्य लोगों से इस सर्विस के लिए संपर्क बनाकर रख सकते हैं।

जिससे आपको इन सब में ज्यादा खर्चे नहीं करने पड़ेंगे और आपका फायदा भी हो जाएगा। आप इन लोगों से पहले से ही बात करके रख सकते हैं कि आपकी तरफ से दी जाने वाली जितनी भी शादी और पार्टी में इनको जितना भी फायदा होगा उसका कुछ प्रतिशत वे आपको देंगे।

मैरिज हॉल बिजनेस के लिए स्टाफ

हालांकि आप कैटरिंग,टेंट हाउस सर्विस,डिजे के लिए दूसरों से संपर्क करके रख सकते हैं लेकिन इसके अतिरिक्त आपके पास भी खुद के आठ से 10 स्टाफ होने जरूरी हैं ताकि वे किसी भी पार्टी के समय हर चीज को मैनेज करके रख सके।

आप उन्हें इस शर्त पर रख सकते हैं कि जब भी कोई शादी या पार्टी आपके यहां होगी तो आप उन्हें कुछ दिन पहले ही बता देंगे जिससे आपको उन्हें महीने के अनुसार सैलरी देने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जब आपका हॉल बुक होगा उतने दिनों की सर्विस के लिए आप उन्हे पेमेंट दे सकते हैं।

यह भी पढ़े सर्दी के मौसम कौनसा बिजनेस करें?

मैरिज हॉल बिजनेस में लागत

मैरिज हॉल का बिजनेस बहुत बड़ा बिजनेस है, जिसमें आपको काफी निवेश भी लगते हैं और यह निवेश एरिया और लोकेशन पर आधारित है उदाहरण के लिए यदि आप किसी बड़े शहर में जमीन लेते हैं तो 5से 6 करोड आपको जमीन में ही लग जाएगा लेकिन वंही आप छोटे शहरों में जमीन लेकर यह व्यवसाय शुरू करते हैं तो वैसे लोकल एरिया में 40 से 50 लाख में इतनी जमीन आपकी हो जाएगी। इस तरीके से जो भी लोकेशन होगा।

उसके अनुसार आपके जमीन में निवेश लगेगा। हालांकि यदि आपके पास खुद की जमीन है तब तो काफी निवेश बच जाएगा लेकिन खुद की जमीन ना होने पर आपको इसमें निवेश लगाना पड़ेगा। इसके अतिरिक्त अपने मैरिज हॉल में अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामग्रियों और बिजली, पानी अन्य सुविधाओं के लिए किए गए निवेश को भी जोड़ना पड़ेगा। इन सब के साथ औसतन 6 से 7 करोड़ कि निवेश आपको लगानी पड़ सकती हैं।

मैरिज हॉल बिजनेस के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन

  • बात करें इस व्यवसाय के रजिस्ट्रेशन की तो जिस प्रकार हर व्यवसाय के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होता है उसी प्रकार आपको विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए अपने व्यवसाय को भी रजिस्ट्रेशन कराना होगा।
  • इसके अतिरिक्त आपको जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी कराना पड़ेगा क्योंकि यह व्यवसाय से आपको काफी ज्यादा कमाई होती है इसलिए सरकार को टैक्स देने पड़ेंगे।
  • साथी ही आपको TAN नंबर की भी आवश्यकता होगी ताकि आप जिस भी कर्मचारियों को नियुक्त करें उनके वेतन से टैक्स को काट सकें।
  • इसके अतिरिक्त आपको फायर डिपार्टमेंट से एनओसी भी प्राप्त करनी होगी।
  • यदि कैटरिंग की सुविधा भी आपके तरफ से है तो फिर आपको उसके लिए एफएसएसएआई लाइसेंस भी बनाने पड़ेंगे।

मैरिज हॉल बिजनेस में मुनाफा

मैरिज हॉल का बिजनेस जितना बड़ा और ज्यादा निवेश वाला बिजनेस है। आप की कमाई भी उतनी ही ज्यादा होती है। हालांकि मैरिज हॉल के बिजनेस से होने वाली कमाई आपकी बुकिंग पर आधारित है जितना ज्यादा बुकिंग होगी कमाई भी उतनी ही ज्यादा होगी। सामान्य तौर पर एक बुकिंग पर लोग दो से तीन लाख तक का चार्ज करते हैं।

इस तरीके से यदि शादियों के सीजन में 30 से 40 बुकिंग भी आपको मिल जाती है तो इस सीजन में आप 60 से 70 हजार रुपए स्टाफ, कैटरिंग इत्यादि के मेंटेनेंस के खर्चे काटकर 40 से 50 लाख आपकी कमाई हो जाती है। शादियों के सीजन के अतिरिक्त भी लोग बर्थडे पार्टी, शादी का सालगिरह और कई प्रकार के सेमिनार के लिए भी हॉल बुक करवाते हैं तो ऐसे में देखा जाए तो पूरे साल भी आपकी कमाई इस बिजनेस से होती रहती हैं।

मैरिज हॉल के नाम (Marriage hall name ideas in hindi)

  • सप्तपदी
  • शुभारम्भ
  • आशीर्वाद
  • सिंदूर
  • बंधन
  • रॉयल पैलेस
  • चांदनी

FAQ

मैरिज हॉल क्या होता है?

जहां पर शादी ,पार्टी ,सेमिनार जैसी चीजें आयोजित होती है उसे ही मैरिज हाल कहते हैं।

मैरिज हॉल बनाने में कितना खर्च आता है?

मैरिज हॉल को बनाने में आने वाला खर्चा एरिया और लोकेशन पर आधारित होता है। यह अलग-अलग एरिया और लोकेशन के अनुसार 50 लाख से करोड़ों तक का भी खर्चा हो सकता है।

मैरिज हॉल का व्यवसाय शुरू करने के लिए क्या-क्या चाहिए ?

मैरिज हॉल का व्यवसाय शुरू करने के लिए सबसे पहले तो आपको एक बड़ी जमीन चाहिए होगी।

मैरिज हॉल के व्यवसाय से कितनी कमाई कर सकते हैं?

मैरिज हॉल के व्यवसाय से कमाई करने का कोई सीमा नहीं है। इसमें शादियों के सीजन में बहुत ज्यादा कमाई होती है वहीं पूरे साल भी अलग-अलग पार्टियों में थोड़ी बहुत कमाई होती रहती है। इसलिए इस व्यवसाय को शुरू करके आप 70 से 80 लाख रुपए शादियों के सीजन में कमा सकते हैं।

मैरिज हॉल वाले कौन-कौनसी सुविधाएं देते हैं?

मैरिज हाल वालो को कैटरिंग ,टेंट, डीजे इत्यादि सभी प्रकार की सुविधाएं देनी पड़ती है। साथ ही मैरिज हाल में 5 से 6 कमरे भी होने जरूरी होते हैं, जिसमें पंखे, ऐसी ,बल्ब,हिटर सब कुछ लगे होने चाहिए।

निष्कर्ष

इस तरीके से आप मैरिज हॉल बिजनेस शुरू करके काफी ज्यादा कमाई कर सकते हैं। यह बहुत अच्छा मौका है कमाने का। इस बिज़नेस में भले ही आपको ज्यादा निवेश करने पड़ते हैं लेकिन एक बार के निवेश से आप इसमें जिंदगी भर कमाई कर सकते हैं।आज इस आर्टिकल में हमने आपको मैरिज हॉल बिजनेस कैसे करें? (Banquet Hall Business in Hindi) के से जुडी सभी प्रकार की माहिती शेयर की है। उम्मीद है आपको हमारे यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

अगर आपको आज का हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले। इसके अलावा अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हो। हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे।

यह भी पढ़े

रेस्टोरेंट बिजनेस कैसे शुरू करें?

घर किराये पर देकर पैसा कैसे कमाएं?

अनाथ आश्रम कैसे शुरू करें?

इंटरनेट कैफे का बिजनेस कैसे शुरू करें?

नवीनतम बिजनेस आइडिया और पैसा कमाने के तरीके जानने के लिए हमारे वाट्सऐप पर जुड़ें Join Now
नवीनतम बिजनेस आइडिया और पैसा कमाने के तरीके जानने के लिए हमारे टेलीग्राम पर जुड़ें Join Now

Leave a Comment