इंटीरियर डिज़ाइन का बिजनेस कैसे शुरू करें?

Interior Decorator Business in Hindi: आजकल ऐसे कई बिजनेस चल रहे हैं, जिसकी सहायता से आप बहुत ही अच्छी कमाई कर सकते हैं। ऐसा ही एक बिजनेस इंटीरियर डेकोरेशन या डिजाइनिंग का है, जो इस समय बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय है।

लोगों के द्वारा इसकी बहुत ही अधिक मांग हो रही है। अगर आपके पास इंटीरियर डिजाइनिंग के कोर्स की डिग्री, कौशल, कला, इसी के साथ ज्ञान है तो आप भी इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

Interior Decorator Business in Hindi
Image: Interior Decorator Business in Hindi

अगर आप भी इस बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए पूरी जानकारी की आवश्यकता होगी और पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी इसीलिए अंत तक बने रहिए।

इंटीरियर डिज़ाइन का बिजनेस कैसे शुरू करें? | Interior Decorator Business in Hindi

इंटीरियर डिजाइनिंग क्या होती है?

जैसा कि आप जानते हैं हर व्यक्ति अपने घर को बहुत ही सुंदर और खूबसूरत दिखाना चाहता है। लोगों को हर चीज आकर्षक दिखाना बहुत ही ज्यादा पसंद है, इसीलिए लोग इंटीरियर डिजाइनर की सहायता लेते हैं और अपने घर को सुंदर बनाते हैं।

इंटीरियर डिजाइनर का काम होता है, आपके सपनों के घर को हकीकत में बदलना और यह बहुत ही फायदेमंद बिजनेस है।

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस के लिए शिक्षा और अनुभव

अगर आपने बिजनेस के लिए अच्छी स्किल्स है तो यह बहुत ही अच्छी बात है। परंतु इसी के साथ आपको इंटीरियर डिजाइनिंग के अच्छे और बेहतर शिक्षा और अनुभव की आवश्यकता पड़ेगी तभी आपका यह बिजनेस सफल हो पाएगा। इसके लिए आपको कुछ कोर्स करने की आवश्यकता होती है। जैसे कि

  • कलर थ्योरी कोर्स
  • डिजाइन स्टाइलिश कोर्स
  • कलर्स स्कीम कोर्स
  • फर्नीचर को किस प्रकार सेट किया जाता है।
  • क्लाइंट से किस प्रकार डील किया जाता है।

इसी के साथ साथ आपको अन्य कई जानकारी भी कोर्स के द्वारा दी जाती है, इसीलिए इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स करना बहुत ही आवश्यक होता है। क्योंकि अगर आप के क्लाइंट को यह बात पता चलेगी कि आपके पास बहुत ही अच्छा अनुभव और कोर्स की डिग्री है तो वह आपसे बहुत ही ज्यादा प्रभावित होंगे, इसी के साथ आपके काम पर विश्वास भी दिखाएंगे।

इस समय इस बिजनेस की मार्केट में डिमांड बढ़ती हुई दिखाई दे रही है। ऐसे में अगर आपके पास डिग्री होगी तो आपको बिजनेस बढ़ाने में बहुत ही अच्छी सहायता मिलेगी।

इसी के साथ आपके पास कला और अनुभव होना भी बहुत ही आवश्यक है। अनुभव के लिए आप किसी कंपनी या किसी और व्यक्ति के साथ काम शुरू कर सकते हैं। जैसे-जैसे आप का अनुभव बढ़ता जाएगा, वैसे वैसे आप अपना बिजनेस शुरू कर पाएंगे और भविष्य को सफल बना पाएंगे।

यह भी पढ़े: हैंडमेड ज्वेलरी बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन

अगर आप इंटीरियर डिजाइनिंग का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको लाइसेंस की आवश्यकता जरूर पड़ेगी। अगर आप इस बिजनेस को बिना लाइसेंस के शुरू करते हैं तो इसके लिए आप पर कानूनी कार्यवाही भी हो सकती है और जुर्माना भी भरना पड़ सकता है।

इसी के साथ आपका बिजनेस बंद किया जा सकता है। इसीलिए किसी भी प्रकार का बिजनेस शुरू करने से पहले लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन बहुत ही आवश्यक होता है।

जब आप मान्यता और लाइसेंस प्राप्त कर लेंगे, उसके बाद आपको टैक्स रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता होती है। इसी के साथ एक बैंक खाता उस व्यक्ति के नाम से जो व्यक्ति बिजनेस शुरू करने जा रहा है, होना आवश्यक है। अगर आप अलग-अलग राज्य में बिजनेस करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको विभिन्न राज्य एवं संघीय टैक्सेस से रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत ही आवश्यक होता है।

इसी के साथ आपको एक अलग से बिजनेस खाता भी खुलवाना पड़ेगा। इसका सबसे अच्छा फायदा यह होता है कि इससे आप आसानी से लेनदेन कर पाएंगे। इसी के साथ सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि अंत में टैक्स फाइल करने पर कोई भी समस्या या परेशानी नहीं आती है।

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस को शुरू करने के लिए उपकरण एवं आवश्यकताएं

  • इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको ऐसी जगह को चुनना होगा, जहां पर आप जरूरत के हिसाब से सभी चीजों को अच्छी तरह से रख सके। इसके लिए आप किसी दुकान का इस्तेमाल भी कर सकते हैं या आप किस बिजनेस को अपने घर से भी शुरू कर सकते हैं।
  • इसके बाद आपको स्टाफ की भी आवश्यकता होगी। क्योंकि यह ऐसा बिजनेस है, जिसके लिए स्टाफ की आवश्यकता होती है।
  • इसी के साथ आपको लेजर प्रिंटर की भी आवश्यकता होगी।
  • इसके अलावा आपको एक फैक्स मशीन भी चाहिए होगी।
  • फैब्रिक और वॉल कवरिंग के सैंपल बॉक्स भी होना आवश्यक है।
  • सबसे जरूरी एक लैपटॉप या कंप्यूटर की आवश्यकता होगी। इसी के साथ आपके ऐसा सॉफ्टवेयर, जिसमें आप क्लाइंट को घर के डिजाइन दिखा पाए और उनके लिए डिजाइन कर सके और डिजाइन की हुई चीजों को चेंज भी कर सके तो कंप्यूटर और लैपटॉप का होना जरूरी होता है।
  • इसी के अलावा हर उस आइटम का सैंपल या कैटलॉग वह आपके पास होना आवश्यक है, जो आप क्लाइंट के घर को डेकोरेट करते समय प्रयोग में लेते हैं।
  • आपको एक ऐसे सॉफ्टवेयर की भी आवश्यकता होगी, जो 3D इफेक्ट दे पाए ताकि आपके क्लाइंट को यह समझ आए कि उनका घर डेकोरेट होने के बाद किस प्रकार दिखाई देगा।

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस को करने के तरीके

यह ऐसा बिजनेस है, जिसको आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से कर सकते हैं। इंटीरियर डिजाइनिंग का बिजनेस दोनों ही तरीके से सक्सेस और संभव है। आइए इसके बारे में पूरी जानकारी देते हैं:

ऑनलाइन तरीके से बिजनेस

  • जैसा कि आप जानते हैं जब भी व्यक्ति को किसी चीज की जरूरत होती है, सबसे पहले वह ऑनलाइन सर्च जरूर करता है। अगर वह ऑनलाइन सर्च करेंगे तो इंटीरियर डिजाइनिंग की लागत और उनके कार्य करने के तरीके अच्छी तरह से पता चल जाएंगे, इसीलिए यह बिजनेस ऑनलाइन बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है।
  • आप इस बिजनेस को शुरू करने के लिए एक वेबसाइट भी बना सकते हैं। उस वेबसाइट में अपने बिजनेस से संबंधित सभी जानकारी डालेंगे, जिससे क्लाइंट आपकी सभी जानकारी पढ़कर आपसे संपर्क करें और काम करवा पाए।
  • जब आप वेबसाइट बनाते हैं तो कुछ बातों को ध्यान में रखना बहुत ही आवश्यक होता है। जैसे कि आप अपने होमपेज पर उस तस्वीर को लगाएं जो आपका सबसे बेस्ट काम हो क्योंकि अगर होम पेज की तस्वीर देखकर क्लाइंट आकर्षक होगा तभी आपसे काम करवाएगा।
  • इसी के साथ आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि जब भी कोई व्यक्ति आपके लिंक पर क्लिक करें तब आपकी वेबसाइट आसानी से खुल जाए क्योंकि अगर किसी वेबसाइट को खुलने में समय लगता है तो क्लाइंट दूसरे लिंक को खोल लेता है।
  • जब भी आप अपनी वेबसाइट के लिए कंटेंट लिखे उस पर अच्छी तरह से ध्यान दें ताकि विजिटर आप से जुड़े रहे हैं। आप अपने कंटेंट में बिजनेस के बारे में संपर्क करने का तरीका नियम एवं शर्तें, पॉलिसी, प्राइवेसी इत्यादि के बारे में अच्छी तरह से जानकारी दें।

ऑफलाइन तरीके से बिजनेस

  • अगर आप इस बिजनेस को ऑफलाइन तरीके से शुरू करना चाहते हैं तो यह बहुत ही बेहतर ऑप्शन है। इसके लिए सबसे पहले आपको एक दुकान या कमरे की आवश्यकता पड़ती है, जहां पर आप अपना ऑफिस शुरू कर सके। क्योंकि क्लाइंट आपके ऑफिस में ही आकर आप से मिल सकते हैं। इसी के साथ आपके पास सभी प्रकार की आवश्यक सामग्री होना बहुत ही आवश्यक है।
  • इसके अलावा बिजनेस मार्केटिंग करने के लिए आप न्यूज़पेपर अलग-अलग पत्रिकाएं इत्यादि जगह या फिर लोकल न्यूज़ चैनल पर अपने बिजनेस का विज्ञापन कर सकते हैं। इसी के साथ अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए आप लोगों भी तैयार करवा सकते हैं।
  • जब भी आप अपने ऑफिस का चुनाव करते हैं तो यह बात ध्यान में जरूर रखें कि जगह ऐसी चुनें, जहां पर लोग आसानी से पहुंच सके और पार्किंग की अच्छी खासी व्यवस्था हो।

यह भी पढ़े: फैशन डिजाइनिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस की मार्केटिंग

किसी भी बिजनेस को सक्सेस बनाने के लिए मार्केटिंग करना बहुत ही जरूरी होता है। जितनी अच्छी आप की मार्केटिंग होगी, उतना ही आपका बिजनेस चलेगा और उतना ही आप मुनाफा कमा पाएंगे। इसके लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके अपना सकते हैं।

सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिए आप मार्केटिंग कर सकते हैं। यह बहुत ही बेहतर तरीका है क्योंकि आजकल सबसे ज्यादा सोशल मीडिया का ही इस्तेमाल किया जाता है और इसमें बहुत ही कम लागत लगती है। सोशल मीडिया के जरिए बिजनेस का प्रचार और प्रसार बहुत ही आसान तरीके से किया जा सकता है।

इसी के साथ आप अच्छे-अच्छे कंटेंट लिखकर या अन्य व्यक्ति से लिखवा कर अपने ग्राहकों को अपनी और आकर्षित कर सकते हैं। इसी के साथ आप छोटे-छोटे वीडियो बनाकर भी सोशल मीडिया पर डाल सकते हैं, जिसके माध्यम से लोग आपके काम को समझ पाएंगे और आपका काम अच्छा चलने लगेगा।

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस में कुल निवेश

जैसा कि आप जानते हैं किसी भी प्रकार का बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले इन्वेस्टमेंट करना बहुत ही आवश्यक होता है। यह सब आप पर निर्भर करता है कि आप शुरुआत में कितना निवेश कर सकते हैं या आप कितना निवेश करना चाहते हैं।

क्योंकि इस बिजनेस को शुरू करने के लिए ₹100000 तक का खर्चा भी आ सकता है। अगर आप इसे छोटे स्तर पर शुरू करना चाहते हैं तो भी 40 से 50000 का खर्चा आराम से आ ही जाता है।

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस से लाभ

अगर आप इस बिजनेस को बहुत ही अच्छी तरीके से चला सकते हैं तो आपको इससे बहुत ही अच्छा मुनाफा मिल सकता है। इस बिजनेस के जरिए आप कम से कम 20% से 25% तक अपना प्रॉफिट मार्जिन बचा सकते हैं और हर बिजनेस में प्रतियोगी भी होते हैं।

इसीलिए प्रतियोगिता के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए और आप कम रेट और अच्छी क्वालिटी लगाकर लोगों का विश्वास जीत सकते हैं और अपने बिजनेस में अधिक से अधिक लाभ कमा सकते हैं।

यह भी पढ़े: फ्रीलांसिंग से पैसा कैसे कमायें?

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस में रिस्क

जब किसी बिजनेस को शुरू करते हैं तो शुरू शुरू में हर बिजनेस में रिस्क जरूर होता है। अगर थोड़ा बहुत रिस्क होता भी है तो इसमें आपको ज्यादा जोखिम नहीं उठाना पड़ेगा। क्योंकि आपका यह बिजनेस जरूर चलेगा क्योंकि यह एक ऐसा बिजनेस है, जिस की डिमांड हमेशा मार्केट में देखने को मिलती है और आने वाले समय में बढ़ती हुई दिखाई देगी।

इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस में ध्यान रखने योग्य बातें

  • सबसे महत्वपूर्ण बात इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपके पास एक अच्छा मैनेजमेंट और कम्युनिकेशन स्किल होना बहुत ही आवश्यक है।
  • आपको काम क्रिएटिव तरीके से करना आना चाहिए यह सबसे ज्यादा जरूरी है।
  • जो भी लोग आपके साथ काम कर रहे हैं, उनका व्यवहार बिल्कुल विनम्र होना चाहिए ताकि क्लाइंट आपके पास दोबारा आए और शिकायत का मौका ना मिले।
  • आप अपने स्टाफ के लिए ड्रेस कोड रख सकते हैं ताकि आप बिल्कुल प्रोफेशनल तरीके से बिजनेस कर सकें।
  • जब भी कोई काम हाथ में लेते हैं तब उस काम को समय पर ही पूरा करके दें, यह पॉलिसी अवश्य रखें।
  • अपने कमेंट को कुछ ना कुछ ऑफर जरूर दें बाकी क्लाइंट आपके पास दोबारा काम करवाने जरूर आए।
  • सबसे महत्वपूर्ण बात हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि आपके क्लाइंट को किस तरीके का काम पसंद है और उसी के अनुसार उनको काम करके दें क्योंकि डिजाइनर का काम होता है, सपनों को हकीकत में बदलना।

FAQ

इस बिजनेस को शुरू करने में कुल कितना निवेश लग सकता है?

यह बात आप पर निर्भर करती है आप चाहे तो 40 से 50 हजार में भी शुरू कर सकते हैं, आप चाहे तो इसमें एक लाख भी इन्वेस्ट कर सकते हैं।

क्या यह प्रोफेशनल बिजनेस है?

जी हां, अगर आप प्रोफेशनल तरीके से करेंगे तो आपके लिए फायदेमंद होगा।

इंटीरियर डिजाइनिंग कोर्स कहां से किए जाते हैं?

इंटीरियर डिजाइनिंग कोर्स आप कहीं पर से भी कर सकते हैं, इसके लिए बहुत सारी यूनिवर्सिटी और कॉलेज हैं।

क्या यह बिजनेस करना फायदेमंद साबित हो सकता है?

जी हां, इस समय जैसे लोग अपने स्टेटस को मेंटेन करने के लिए अपने घर को आकर्षित बनाते हैं। उसके लिए आने वाले समय में इंटीरियर डिजाइनिंग का बिजनेस बहुत ही सफल बिजनेस होगा।

निष्कर्ष

इस बिजनेस को शुरू करना बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है। इसी के साथ थोड़ी बहुत योग्यता और अनुभव का होना आवश्यक है। इसके लिए आप प्रोफेशनल कोर्स कर सकते हैं। अलग-अलग तरह के कोर्स इंटीरियर डिजाइनिंग में होते हैं। आप किसी भी तरीके का कोर्स करके खुद को प्रोफेशनल बना सकते हैं और इस बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं।

आशा करते हैं आपको यह आर्टिकल इंटीरियर डिज़ाइन बिजनेस कैसे शुरू करें? (Interior Decorator Business in Hindi) पसंद आया होगा। अगर आप को इस आर्टिकल से संबंधित अन्य कोई भी जानकारी चाहिए तो आप कमेंट सेक्शन में कमेंट कर सकते हैं।

यह भी पढ़े

फोटो फ्रेम का बिजनेस कैसे शुरू करें?

मग प्रिंटिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?

कपड़ों में कढ़ाई का बिजनेस कैसे शुरू करें?

गिफ्ट बास्केट बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें?

Leave a Comment