फोटो फ्रेम का बिजनेस कैसे शुरू करें?

Photo Frame Business in Hindi : आप सभी तो जानते ही हैं कि आज के समय में फोटो और फोटो फ्रेम्स का हमारे जीवन में क्या महत्व है। आज के समय में लगभग सभी लोग अपनी यादों को फोटो फ्रेम के माध्यम से सजाना पसंद करते हैं। सोशल मीडिया और डिजिटल फोटोग्राफी ने युवाओं कि फोटोग्राफी के प्रति प्यार को बढ़ाने में मदद की है। आज के समय में फोटोग्राफी के प्रति बढ़ते हुए रुचि को देखते हुए फोटो फ्रेम के बिजनेस कि काफी ज्यादा मांग हो रही है । आज के समय में यह बिजनेस काफी अच्छा और सफल बिजनेस बन गया है।

Photo-Frame-Business-in-Hindi-
Image : Photo Frame Business in Hindi

यदि आप भी फोटो फ्रेम के बिजनेस को करने के बारे में सोच रहे हैं तो हमारे इस आर्टिकल के अंत तक जरूर बने रहें , क्योंकि आज हम आप सब को अपने इस आर्टिकल के माध्यम से फोटो फ्रेम का बिजनेस कैसे शुरू करें? के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे । तो चलिए बिना समय गवाएं इस विषय के बारे में विस्तार पूर्वक जानते हैं।

फोटो फ्रेम का बिजनेस कैसे शुरू करें? | Photo Frame Business in Hindi

Table of Contents

फोटो फ्रेम का बिजनेस कैसे शुरू करे

बाकी बिजनेस की तरह ही फोटो फ्रेम के बिजनेस कि भी शुरुआत करने से पहले इस बिजनेस से जुड़ी हुई सभी तरह की जानकारियों को प्राप्त करना अति आवश्यक होता है , क्योंकि बिना जानकारी प्राप्त किए गए बिजनेस को करने में कभी भी सफलता प्राप्त नहीं होता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस की शुरुआत करने के लिए आपको बहुत सी बातों के बारे में जानकारी प्राप्त करना होता है , तो चलिए उन सभी बातों के बारे में एक एक करके जानते हैं।

फोटो फ्रेम का प्रकार

आप सभी ने तो कभी ना कभी फोटो फ्रेम का इस्तेमाल तो किया ही होगा । आप सब ने हर जगह अलग अलग तरह के फोटो फ्रेम को भी देखा होगा , तो चलिए हम उन्हीं में से कुछ फोटो फ्रेम के प्रकार के बारे में जानते हैं:-

1. लकड़ी का फोटो फ्रेम

इस फोटो फ्रेम के नाम से ही आपके समझ में आ रहा होगा कि इस फ्रेम का बॉडी लकड़ी से बना हुआ होता है। इस फ्रेम का निर्माण लकड़ी के माध्यम से किया जाता है , और फिर उसे अलग अलग रंगों में सजाकर मार्केट में बेचने योग्य बनाया जाता है।

2. प्लास्टिक का फोटो फ्रेम

इस फ्रेम के भी नाम से आपको यह पता चल रहा होगा कि इस प्रेम का बॉडी प्लास्टिक मटेरियल से बना हुआ होता है। और आज के समय में इस फिल्म का इस्तेमाल लगभग हर घरों में देखने को मिलता है ।

3. डिजिटल फोटो फ्रेम

डिजिटल फोटो फ्रेम एक ऐसा प्रेम होता है जो कि डिजिटल फोटो दिखाता है कोई पेपर फोटो नहीं। इस फ्रेम के अंतर्गत फोटो डालकर प्रदर्शित नहीं किया जाता है बल्कि एलसीडी स्क्रीन के माध्यम से प्रदर्शित किया जाता है।

यह कार्ड रीडर के इंटरनेट के माध्यम से एसडी कार्ड के तस्वीरों को प्राप्त करके एलसीडी स्क्रीन पर दिखाता है। यह फोटो फ्रेम आने वाले समय में निश्चित रूप से डिजिटल फोटो फ्रेम को बढ़ावा देगा।

4. ग्लास फोटो फ्रेम

ग्लास फ्रेम के अंतर्गत फ्रेम का बॉडी ग्लास मैटेरियल से बना हुआ होता है। और ग्लास के बने हुए फोटो फ्रेम को अलग अलग तरह से सजा कर आकर्षक रूप देकर मार्केट में लोगों के उपयोग के लिए पहुंचाया जाता है।

5. एलुमिनियम मिश्र धातु फोटो फ्रेम

इस फोटो फ्रेम का बॉडी एलुमिनियम मिश्र धातु से मिलकर बना हुआ होता है । यह दिखने में काफी ज्यादा सुंदर व आकर्षक दिखता है । और आज के समय में बहुत से घरों में इसका उपयोग किया जाता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए मार्केट रिसर्च

जिस तरह बाकी बिजनेस की शुरुआत करने से पहले की हर संभव मार्केट रिसर्च की जाती है । ठीक इसी तरह से फोटो फ्रेम के बिजनेस की भी शुरुआत करने से पहले इससे जुड़ी हुई सभी तरह की मार्केट रिसर्च करने की आवश्यकता पड़ती है । क्योंकि मार्केट रिसर्च के माध्यम से हि आपको अपने बिजनेस के बारे में अनेकों जानकारियां प्राप्त होगीं ,  जो कि आपके बिजनेस को सही ढंग से करने में आपकी मदद करेंगी ।

फोटो फ्रेम बिजनेस के मार्केट रिसर्च के अंतर्गत बहुत से बातों का विशेष रूप से ध्यान देना होता है जैसे कि- इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए कौन सा जगह बेहतर होगा?, इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए कितना जगह लगेगा ?, कितना इन्वेस्टमेंट करना पड़ेगा?, इस बिजनेस को करने के लिए क्या लाइसेंस लेने की आवश्यकता पड़ती है ?, क्या स्टाफ मेंबर की आवश्यकता पड़ती है?, आप जिस जगह पर इस बिजनेस की शुरुआत कर रहे हैं? क्या उस जगह पर पहले से कोई और फोटो फ्रेम की दुकान मौजूद है या नहीं ?, आपके लोकल मार्केट में इस बिजनेस के रिक्वायरमेंट क्या है?, इत्यादि। यह सब मार्केट रिसर्च से जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण बातें होती हैं जिनके बारे में जानना अति आवश्यक होता है ।

यह भी पढ़े: मग प्रिंटिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?

फोटो फ्रेम के बिजनेस में लगने वाली रो मटेरियल की कीमत और कहां से खरीदें

फोटो फ्रेम के बिजनेस के अंतर्गत लगने वाले रॉ मैटेरियल्स मुख्य रूप से लकड़ी, प्लास्टिक, एलुमिनियम मिश्र धातु, ग्लास, अलग अलग तरह के सिंथेटिक पी एस मोल्डिंग मैटेरियल, लकड़ी की बोर्ड, ग्लास, फ्रेम को टांगने के लिए हुक, इत्यादि। यह सभी चीजों का इस्तेमाल फोटो फ्रेम बनाने के लिए किया जाता है। इनमें से मुख्य रूप से पीएस मोल्डिंग मटेरियल का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है क्योंकि बाकी मटेरियल के मुकाबले यह दिखने में काफी ज्यादा सुंदर , हल्के, टिकाऊ, और सस्ते दामों में उपलब्ध हो जाते हैं।

इन सभी रो मटेरियल को आप अपने लोकल मार्केट के माध्यम से खरीद सकते हैं और यदि आप चाहें तो इन सभी मटेरियल उसको किसी ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से भी खरीद सकते हैं।आपको लोकल मार्केट के मुकाबले ऑनलाइन वेबसाइट में यह सभी चीजें बहुत ही सस्ते दामों में उपलब्ध हो जाएंगी।

इन सभी रॉ मैटेरियल को खरीदने का सबसे बढ़िया तरीका की आप किसी डीलर से संपर्क करें जो कि एक आर्डर पर रॉ मैटेरियल को आप तक पहुंचाने का कार्य करेगा और इन सभी रॉ मैटेरियल्स की कीमत कम से कम ₹20000 रुपए के आसपास होगी। यह कीमत आपके द्वारा खरीदे जा रहे हैं क्वांटिटी पर निर्भर करता है । कहने का मतलब यह है कि आप जितना ज्यादा अमाउंट में रॉ मैटेरियल की खरीदी करेंगे आपको उतना ही ज्यादा लागत लगेगा।

फोटो फ्रेम के बिजनेस में लगने वाली मशीनों की कीमत और कहां से खरीदें

फोटो फ्रेम के बिजनेस के अंतर्गत फोटो फ्रेम का निर्माण करने के लिए निम्नलिखित मशीनों का इस्तेमाल किया जाता है। इन मशीनों के माध्यम से अलग अलग तरह के और सुंदर सुंदर फोटो फ्रेम को बनाने का कार्य किया जाता है । तो चलिए उन सभी रो मटेरियल को एक एक करके जानते हैं

  1. इलेक्ट्रिक कटर मशीन :- 5 से 7 हजार रुपए तक।
  2.  प्रेस कटिंग मशीन:- ₹5000 से लेकर के ₹10000 तक।
  3. हैंड स्टैपलर मशीन या प्रेस स्टैपलिंग मशीन:- लगभग ₹30000 के आस पास।
  4. ग्लास कटिंग मशीन :- ₹5000 से लेकर के ₹14000 तक के आसपास।
  5. बोर्ड कटिंग मशीन :- ₹10000 से लेकर के ₹15000 तक।
  6. हुक मशीन :- ₹7000 से लेकर के ₹10000 तक।
  7. टैप गन :- ₹3000 से लेकर के ₹4000 तक।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के अंतर्गत इन मशीनों का इस्तेमाल किया जाता है। इन सभी मशीनों की कीमत हमने आपको ऊपर बता दी है। आप इन सभी मशीनों को मार्केट या ऑनलाइन दोनों माध्यम से खरीद सकते हैं।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए प्रोसेस

इस बिजनेस के अंतर्गत मुख्य रूप से फोटो फ्रेम बनाने का कार्य किया जाता है इस बिजनेस के अंतर्गत अलग अलग तरह के फोटो फ्रेम्स बनाने का कार्य किया जाता । परंतु उन सभी फ्रेम को बनाने के लिए सेम मशीन का ही इस्तेमाल किया जाता है।

फोटो फ्रेम बनाने के लिए सबसे पहले फोटो फ्रेम कटिंग मशीन का इस्तेमाल किया जाता है। इस मशीन के माध्यम से सिंथेटिक पीएस मोल्डिंग मैटेरियल को डिजाइनर तरीके में कट किया जाता है। फ्रेम को कट करने के लिए आप प्रेस कटिंग मशीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। फोटो फ्रेम को कट करने के बाद फ्रेम को स्टैपलर कर के शेप में लाया जाता है। फोटो फ्रेम स्टैपलर करने के लिए हैंड स्टैपलर मशीन या प्रेस स्टैपलिगं मशीन का इस्तेमाल किया जाता है।

उसके बाद फ्रेम के साइज के हिसाब से ग्लास और बोर्ड को कट किया जाता है। ग्लास और बोर्ड को कट करने के लिए कटिंग मशीन का इस्तेमाल किया जाता है। उसके बाद प्रेम के अंदर हूक और टैप लगाने का कार्य किया जाता है। इन सभी चीजों को करने के बाद फोटो फ्रेम पूरी तरीके से तैयार हो जाता है और फोटो फ्रेम के तैयार होने के बाद उन्हें मार्केट में लोगों के उपयोग के लिए भिजवा दिया जाता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए लोकेशन

सभी विषयों की तरह हि फोटो फ्रेम के बिजनेस को भी करने के लिए एक बेहतर लोकेशन की आवश्यकता होती है। आज के समय में हर जगह फोटो फ्रेम का इस्तेमाल किया जाता है , तो इसीलिए आप इस बिजनेस कि शुरुआत किसी भी जगह के माध्यम से कर सकते है।

बस आपको इस बात का विशेष रूप से ध्यान देना होगा कि आप जिस जगह पर अपने बिजनेस की शुरुआत कर रहे हैं उस जगह पर ट्रांसपोर्ट से जुड़ी हुई इत्यादि सुविधा मौजूद है और कोई अन्य फोटो फ्रेम की दुकान मौजूद ना हो। आपको इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए भारी मात्रा में जमीन की भी आवश्यकता पड़ेगी यदि आपके पास पहले से जमीन उपलब्ध है तो आप उस जगह का इस्तेमाल इस बिजनेस के लिए कर सकते हैं।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन

जिस तरह बाकी बिजनेस को बड़े स्तर पर करने के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन कराने की आवश्यकता होती है ठीक इसी तरह से फोटो फ्रेम का बिजनेस भी एक ऐसा बिजनेस है जिसे करने के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन कराने की आवश्यकता पड़ती हैं।

फोटो फ्रेम के बिजनेस को करने के लिए उद्योग लाइसेंस, प्रोपराइटरशिप और पार्टनरशिप के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करवाना होता है और लिमिटेड लायबिलिटी कंपनी (LLC) एंड कॉरपोरेशन के द्वारा भी रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। इसके अलावा भी आपको टैक्स के लिए भी रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए स्टाफ

आप सब तो जानते ही हैं कि फोटो फ्रेम का बिजनेस एक काफी अच्छा और बड़ा बिजनेस है । इस बिजनेस के अंतर्गत फोटो फ्रेम के निर्माण करने के लिए बहुत से प्रोसेस को अपनाना पड़ता है तो उन सभी प्रोसेस को अकेले कर पाना संभव नहीं होता है, इसलिए आपको इस बिजनेस को करने के लिए कुछ स्टाफ मेंबर की आवश्यकता पड़ेगी।

आप इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए कम से कम 5 से 7 स्टाफ मेंबर रख सकते हैं, जो कि इस बिजनेस के अंतर्गत होने वाले फोटो फ्रेम के निर्माण करने में आपकी सहायता करेंगे और इसके साथ ही साथ आप चाहे तो ट्रांसपोर्ट की सुविधा के लिए एक ड्राइवर भी रख सकते हैं , जिसके माध्यम से आप अपने फोटो फ्रेम को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने का कार्य करेंगें।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए पैकेजिंग

आप सभी तो जानते ही हैं कि फोटो फ्रेम का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जिसके अंतर्गत फोटो फ्रेम का ही निर्माण किया जाता है और उन फोटो फ्रेम को बिना पैकेजिंग के लोगों तक नहीं पहुंचाया जा सकता , इसीलिए फोटो फ्रेम के बिजनेस को करने के लिए आपको पैकेजिंग का भी इस्तेमाल करना पड़ता है।

अपनी फोटो फ्रेम के प्रोडक्ट को पैकेजिंग करने के लिए जूट बैग , कॉटन बैग , क्लॉथ बैग , या बड़े बड़े पेपर बॉक्स , इत्यादि चीजों भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इन सभी चीजों का इस्तेमाल करने से आपके बिजनेस को एक काफी अच्छा लुक मिलेगा , जिससे कि लोग आपके बिजनेस की अोर आकर्षक होंगे और आपके बिजनेस में अच्छा खासा मुनाफा होगा।

यह भी पढ़े: मोबाइल टेम्पर्ड ग्लास बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें?

फोटो फ्रेम के बिजनेस में लगने वाली लागत

फोटो फ्रेम का बिजनेस एक काफी अच्छा और बड़ा बिजनेस है। इस बिजनेस के अंतर्गत फोटो फ्रेम का निर्माण किया जाता है और फोटो फ्रेम का निर्माण करने के लिए अलग अलग तरह के रो मटेरियल और मशीनों का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा भी इस बिजनेस के अंतर्गत पैकेजिंग मैटेरियल का इस्तेमाल किया जाता है।

इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए एक जमीन की भी आवश्यकता पड़ती है तो इन सभी चीजों में लगने वाली लागत कम से कम ₹150000 रुपए से लेकर के ₹200000 तक का लागत लग सकता है इसमें लगने वाली लागत आपके द्वारा शुरू किए गए बिजनेस के स्तर पर भी निर्भर करता है। बिजनेस के स्तर के हिसाब से आपको इस बिज़नेस में लगने वाली लागत कम या ज्यादा भी हो सकता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस में प्रॉफिट

फोटो फ्रेम के बिजनेस के अंतर्गत अलग अलग डिजाइन के और अलग अलग साइज के फोटो फ्रेम का निर्माण किया जाता है , तो आप डिजाइन और साइज के हिसाब से फोटो फ्रेम की कीमत अपने ग्राहकों से ले सकते हैं। कहने का मतलब यह है कि आपको एक फोटो फ्रेम बनाने में जितना खर्चा लगा हैं आप उससे दुगना खर्चा अपने ग्राहकों से वसूल कर सकते हैं।

इस तरह से आपने इस बिजनेस के अंतर्गत जितना भी इन्वेस्टमेंट किया है, उससे अधिक आपको प्रॉफिट होगा। कहने का मतलब यह है कि आप इस बिजनेस के माध्यम से मासिक कम से कम ₹50000 से अधिक कमा सकते हैं।

फोटो फ्रेम के बिजनेस के लिए मार्केटिंग

इस बिजनेस के अंतर्गत उपयोग में आने वाली बाकी चीजों के साथ साथ बिजनेस की मार्केटिंग करना भी बहुत जरूरी होता है। बिजनेस की शुरुआत करने से पहले और शुरुआत करने के बाद बिजनेस के मार्केटिंग अवश्य करनी चाहिए। ऐसा करने से लोगों का आप के बिजनेस के बारे में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त होती है और इस तरीके से आपके बिजनेस में काफी अच्छा मुनाफा होने का चांसेस बढ़ जाता है।

इसलिए आप फोटो फ्रेम के बिजनेस कि मार्केटिंग करने के लिए अलग अलग तरह के तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे की – न्यूज़ पेपर , बैनर , पोस्टर , मैगज़ीन , टीवी चैनल , सोशल मीडिया ऐप,  एप्लीकेशन , वेबसाइट , इत्यादि और इसके अलावा भी आप अपने बिजनेस की माउथ मार्केटिंग करके अपने बिजनेस की पब्लिसिटी बड़ी ही कर सकते हैं।

फोटो फ्रेम के बिजनेस में रिस्क

जिस तरह से बाकी बिजनेस की शुरुआत करने में थोड़ा ना थोड़ा रिस्क होने का चांसेस होता है। ठीक इसी तरह से फोटो फ्रेम के बिजनेस की भी शुरुआत करने में रिस्क होने का चांस होता है, क्योंकि शुरुआती दौर में बिजनेस के बारे में अधिक लोगों को जानकारी प्राप्त नहीं होती इसलिए बिजनेस में कम मुनाफा होता है। परंतु इसका मतलब यह नहीं है कि यह बिजनेस अच्छा बिजनेस नहीं है। यदि इस बिजनेस को पूरी जानकारी , ज्ञान व तजुर्बे के साथ किया जाए तो यह बिजनेस बहुत ही अच्छा बिजनेस साबित होगा।

FAQ

फोटो फ्रेम का बिजनेस क्या है?

फोटो फ्रेम का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जिसके अंतर्गत अलग अलग तरह के फोटो फ्रेम का निर्माण किया जाता है और उनका निर्माण करने के बाद मार्केट में लोगों के उपयोग के लिए भिजवा दिया जाता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस की शुरुआत कैसे करें?

फोटो फ्रेम के बिजनेस की शुरुआत करने के लिए निम्नलिखित बातों का विशेष रूप से ध्यान देना होता है: लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन, प्रोसेस, मार्केट रिसर्च, रॉ मैटेरियल और मशीन, स्टाफ मेंबर और पैकेजिंग, कॉस्ट और इन्वेस्टमेंट, मार्केटिंग, इत्यादि।

फोटो फ्रेम कितना प्रकार का होता है?

फोटो फ्रेम निम्नलिखित प्रकार का होता है: प्लास्टिक फोटो फ्रेम, लकड़ी का फोटो फ्रेम, एलुमिनियम मिश्र धातु, ग्लास फोटो फ्रेम, सिंथेटिक पी एस मोल्डिंग मैटेरियल

फोटो फ्रेम के बिजनेस की शुरुआत करने के लिए कितना लागत लगता है?

फोटो फ्रेम की बिजनेस की शुरुआत करने के लिए कम से कम ₹150000 से लेकर के ₹200000 तक का लागत लगता है।

फोटो फ्रेम के बिजनेस में कितना मुनाफा होता है?

फोटो फ्रेम के बिजनेस में मासिक कम से कम ₹50000 से अधिक होने का चांस होता है। यह मुनाफा आपके द्वारा किए गए प्रोडक्ट के चार्जेस पर भी निर्भर करता है।

निष्कर्ष

फोटो फ्रेम का बिजनेस एक बहुत ही अच्छा और फायदेमंद है। आज के समय में फोटो फ्रेम की लोकप्रियता बहुत तेजी के साथ बढ़ रही है तो बढ़ती हुई लोकप्रियता को देखते हुए हम यह कह सकते हैं कि फोटो फ्रेम का बिजनेस एक काफी अच्छा और सफल बिजनेस है।

आज हमने आप सबको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से फोटो फ्रेम का बिजनेस कैसे शुरू करें? ( Photo Frame Business in Hindi) के बारे में संपूर्ण जानकारी देने का प्रयास किया है। आशा करते हैं कि आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से इस बिजनेस के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई होगी, जो कि आपके इस बिजनेस की शुरुआत करने में आपकी सहायता करेगा।

यह भी पढ़े

मोबाइल बैक कवर प्रिंटिंग बिज़नेस कैसे शुरू करें?

डिजिटल होर्डिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?

ऑनलाइन विज्ञापन का बिजनेस कैसे करें?

डाटा एंट्री का बिजनेस कैसे शुरू करें?

Leave a Comment