चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी कैसे ले?

Chai Sutta Bar Franchise Hindi : भारत जैसे देश में चाय का अपना ही एक महत्व है। यहां पर लोगों की सुबह ही चाय से शुरू होती है। आपने अक्सर सुना होगा कॉलेज में, ऑफिस मीटिंग, में वर्कप्लेस पर कहीं पर भी आप होते हैं या काम के बीच ब्रेक का जैसा ही नाम लेते हैं तो आमतौर पर यह कहा जाता है कि चलिए एक टी ब्रेक ले लिया जाए। हम सामान्य शब्द से चाय की महत्ता को समझते हैं।

Chai-Sutta-Bar-Franchise-Hindi-
Image : Chai Sutta Bar Franchise Hindi

भारतीयों के जीवन में चाय का एक अलग स्थान है। भारत चीन के बाद सबसे ज्यादा चाय का उत्पादन करता है और खपत भी करता है। चाय का बिजनेस शुरू करना किसी भी प्रकार से घाटे का सौदा तो नहीं कहा जा सकताहै। आप भारत के हर गली मोहल्ले नुक्कड़ चौराहे पर एक चाय की दुकान आवश्यक पाएंगे। जहां पर भारतीय अपने रोजमर्रा के जीवन की चर्चा करते हैं और चाय का लुत्फ़ लेते है।

तो हम यह बात कह सकते हैं कि चाय हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा है और अगर आप चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी शुरु करने की सोच रहे हैं। तो चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेना एक प्रकार से आपके लिए लाभदायक विकल्प है।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी कैसे ले ? | Chai Sutta Bar Franchise Hindi

Table of Contents

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी की शुरुआत कैसे करें

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेने के लिए आपको इसके लिए आवेदन करना होता है। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको  कुछ आवश्यक शर्तों को पूरा करना होता है, जो चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी शुरू करने के लिए रखी गई रखी गई है। इस मैं फ्रेंचाइजी लेने की फीस, लोकेशन का चुनाव,  इंटीरियर डिजाइन के लिए आवश्यक निवेश।

इसके लिए कुछ दस्तावेजों की भी आवश्यकता होती है। जैसे पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड वोटर आईडी ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि, फोटोग्राफ ईमेल आईडी मोबाइल नंबर आदि, आईडी प्रूफ में रेंट एग्रीमेंट, जीएसटी नंबर, वित्तीय लेनदेन की रसीद

इन सभी दस्तावेजों के साथ आपको कंपनी की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।  फ्रेंचाइजी लेने से संबंधित नियमों और शर्तों को आप को ध्यान से पढ़ कर समझ कर इसकी फ्रेंचाइजी के लिए आवेदन करना चाहिए।

आवेदन करने के पश्चात कंपनी की तरफ से आपसे संपर्क किया जाएगा। वह कंपनी द्वारा आपके द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी का परीक्षण किया जाएगा। उसके पश्चात आपको इसकी फ्रेंचाइजी प्रदान की जाएगी अगर आप कंपनी द्वारा निर्धारित सभी शर्तों का पालन करते हुए इसकी फ्रेंचाइजी के लिए आवेदन करते हैं, तो आपको  इसकी फ्रेंचाइजी प्राप्त हो जाएगी।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के प्रकार

चाय सुट्टा बार की शुरुआत 2016 में की गई थी। पर आज यह ब्रांड पूरे भारत भर में फैल चुका है और पूरे भारत में  इसके 150 से ज्यादा आउटलेट है और अब यह कंपनी विदेशों में भी अपने  बिजनेस को बढ़ा रही है। चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी दो प्रकार की दी जाती है।

1.कोको मॉडल-इस मॉडल में कंपनी अपनी फ्रेंचाइजी किसी को प्रदान करती है, इसके लिए कुछ चार्ज लेती है। यह कुछ सालों  के लिए हो सकता है। इस फ्रेंचाइजी  में यह अपना ब्रांड नेम किराए पर दी जाती है।

2. fofo मॉडल – fofo  मॉडल में कंपनी अपना  ब्रांड नेम किराए पर ना देकर खुद का संचालन करती है।

कई प्रकार के प्रोडक्ट बेचता है। इस की लिस्ट हम नीचे दे रहे हैं।

  • 1. मसाला  चाय
  • 2. अदरक  चाय
  • 3.  केसर चाय
  • 4. तुलसी  चाय
  • 5.  मैगी
  • 6. पान चाय
  • 7. इलायची  चाय
  • 8. बर्गर
  • 9. पास्ता
  • 10. पिज़्ज़ा

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए मार्केट रिसर्च

भारत भर में चाय का अपना एक अलग ही बाजार है। चाय कैसी चीज है जो हर आम और खास के जीवन में  महत्वपूर्ण स्थान रखती है। चाय का बढ़ता बाजार इस बिजनेस के लिए असीम लाभ के संभावनाओं को खोलता है। भारतीयों की चाय शुरुआत होती है दोपहर में चाय चाहिए रात में भी चाहिए। एक सर्वे के अनुसार एक आदमी दो कप चाय दिन में खपत करता है। 

इतनी अधिक चाय की मांग को देखते हुए। इस बिजनेस में पैसा लगाना मुनाफे का ही सौदा है. वह भी चाय सुट्टा बार जैसे फ्रेंचाइजी के साथ जोड़कर आप सीधे उसके ब्रांड का लाभ ले सकते है।।  निवेश में शुरू किया जा सकता है। इसका एक व्यापक बाजार क्योंकि भारत जैसे विशाल देश में देश की आबादी 130 करोड़ के आसपास है। 

वहां पर यह  सर्वे की एक आदमी दिन में दो कप चाय पीता है। इस बिजनेस की बाजार संभावनाओं को  असीम ऊंचाई पर ले जाता है। चाय का बाजार एक ऐसा बाजार है जो भारत में कभी गिरावट में नहीं जाता है।  इस साल भर अपनी डिमांड बनाए रखता है।

यह भी पढ़े : MBA चाय वाला फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस कैसे शुरू करें?

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए कच्चा माल

इस  बिजनेस में लगने वाली कच्चे माल के रूप में सामग्री सहज उपलब्ध होती है। इस संदर्भ में कंपनी द्वारा आपको आवश्यक ट्रेनिंग दी जाती है। प्रकार का प्रयोग करना है। प्रोडक्ट निर्माण से संबंधित सभी जानकारी व ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए आवश्यक कच्चे  माल के रूप में दूध, चीनी,  चाय पत्ती,  इत्यादि की आवश्यकता होती है। सामान्य तौर पर उपलब्ध हो जाती है. कंपनी द्वारा इस संदर्भ में आपको पर्याप्त ट्रेनिंग दी जाएग।।

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेने के  लिए आवश्यक लागत ₹600000 की आवश्यकता पड़ेगी। साथ ही इसकी  इंटीरियर डिजाइन व अन्य सामान खरीदने के लिए। चाय सुट्टा बार के बिजनेस के लिए आवश्यक कच्चा माल आपको कंपनी द्वारा प्रोवाइड कराया

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए आवश्यक मशीन

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेने के  लिए आवश्यक लागत ₹600000 की आवश्यकता पड़ेगी। साथ ही इसकी  इंटीरियर डिजाइन व अन्य सामान खरीदने के लिए।  चाय सुट्टा बार  का बिजनेस शुरू करने के लिए।आपको 14 से 15 लाख रुपए की आवश्यकता पड़ेगी । शुरुआती लागत के बाद इस बिजनेस में ज्यादा खर्च नहीं आता है। 

आपके द्वारा लगाए गए शुरुआती लागत को आप 20 से 25 महीने में पूरा प्राप्त कर सकते हैं। चाय सुट्टा बार के बिजनेस के लिए कुछ मशीनों की भी आवश्यकता पड़ती है। इस संदर्भ में आपको कंपनी द्वारा जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही  इसके संचालन में परिचालन से संबंधित भी जानकारी कंपनियों को उपलब्ध करा दी जाएगी। मशीनों की लागत की जानकारी कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर उपलब्ध कराई जाती है।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए प्रक्रिया

चाय सुट्टा बार का बिजनेस शुरू करने के लिए  ऑफिस की फ्रेंचाइजी लेनी पड़ेगी। इसके लिए आपको कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है जैसे कि आप का आईडी कार्ड फाइनेंसर  डॉक्यूमेंट, जीएसटी नंबर, पता प्रमाण पत्र। अन्य दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है। उन सभी दस्तावेजों की जानकारी फ्रेंचाइजी के लिए आवेदन करते वक्त या फॉर्म भरते वक्त बता दिए जाते हैं।

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेने के लिए आप चाय सुट्टा बार कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। इससे संबंधित जरूरी दस्तावेज एवं कागजात की जानकारी चाय सुट्टा बार की ऑफिशियल वेबसाइट पर भी दी गई है। जब चाय  सुट्टा बार की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आप ऑनलाइन आवेदन करते हैं तो इससे संबंधित फॉर्म भरकर आप इसकी फ्रेंचाइजी ले सकते हैं।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए स्थान का चुनाव

आपको अपने आउटलेट  की लोकेशन का चुनाव करते समय और ध्यान देने की आवश्यकता होती है। आप की लोकेशन इस प्रकार की हो जहां पर लोगों का आना जाना ज्यादा हो। आप इसे कॉल सेंटर बड़ी कंपनियों के ऑफिस स्कूल कॉलेजों कैंपस के आसपास भी खोल सकते हैं, वहां का वातावरण का भी ध्यान रखना चाहिए।  क्योंकि इस प्रकार की जगह पर लोग अक्सर अपने दोस्तों के साथ मौज मस्ती के लिए आते हैं।

तो जगह साफ-सुथरे वह खुली होनी चाहिए साथ ही साथ पर्याप्त स्थान भी होना चाहिए। ताकि लोगों हम पर बैठकर बातचीत कर सकें और अपने दोस्तों के साथ मौज मस्ती कर सके। इससे आपके बिजनेस में भी बढ़ोतरी होगी।  लोकेशन के चुनाव के समय आपको और भी छोटी  छोटी चीजों पर ध्यान देने की आवश्यकता होती है कि जिस लोकेशन पर चुनाव आपने किया है वह आपके बजट में होने चाहिए और उससे होने वाली आमदनी से आप अपना बिजनेस चला सके।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए लाइसेंस व पंजीकरण

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेने के लिए आपको इस कंपनी के साथ-साथ सरकार द्वारा निर्देशित मानकों का पालन करते हुए आवश्यक लाइसेंस व पंजीकरण की भी आवश्यकता पड़ती है जैसे कि जिस एरिया में आप इसको खोलना चाह रहे हैं वहां की लोकल अथॉरिटी की परमिशन,  स्वास्थ्य विभाग की परमिशन इत्यादि

 क्योंकि आप एक  खाद्य उत्पाद से संबंधित व्यवसाय का संचालन कर रहे हैं इसीलिए आपको स्वास्थ्य विभाग की परमिशन की आवश्यकता पड़ती है।  इसके अलावा सरकार द्वारा अगर किसी प्रकार की आवश्यकता पड़ती है।  उसको भी ले लेना चाहिए।  ताकि आप अपने बिजनेस को सुचारू रूप से संचालित कर  सके

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए स्टाफ

वैसे तो चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी के लिए अधिक स्टाफ की आवश्यकता नहीं पड़ती है लेकिन इसके व्यापकता एवं लोकेशन के आधार पर आपको स्टाफ की आवश्यकता पड़ेगी। जो आपकी लोकेशन वह बिजनेस के आधार पर अलग अलग हो सकती है। 

सामान्य तौर पर आपको  8 से 10 लोगों की स्टाफ की आवश्यकता होगी।  स्टाफ की संख्या आपके बिजनेस के अनुसार कम या ज्यादा की जा सकती है

यह भी पढ़े : बीकानेरवाला फ्रैंचाइजी कैसे ले?

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी के लिए पैकेजिंग

इस बिज़नेस में पैकेजिंग की कोई विशेष आवश्यकता नहीं है। फिर भी कुछ उत्पादों में जैसे कि बर्गर पिज़्ज़ा हॉट कॉफी आदि ने आपको पैकेजिंग की आवश्यकता पड़ती है। इसलिए आपको पैकेजिंग करते समय बड़ी सावधानी बरतने की आवश्यकता पड़ती है। पैकेजिंग करते समय आपको सफाई का पूरा ध्यान देना चाहिए।

पैकेजिंग इस प्रकार की जानी चाहिए कि देखने वाले को आकर्षक लगे। साथ ही साथ इसके लिए प्रयुक्त होने वाली सामग्री का चयन भी आपको गवर्नमेंट द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करते हुए करनी चाहिए।  जैसे कि कुछ प्रकार की पॉलिथीन  वर्तमान समय में भारत में  प्रतिबंधित की गई है इसलिए आपको इस प्रकार की किसी भी पैकेजिंग वस्तुओं के प्रयोग से बचना चाहिए और उन्हीं पैकेजिंग चीजों का प्रयोग करना सरकार द्वारा मंजूर किए गए।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस में निवेश

 चाय सुट्टा बार के बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको बहुत ही कम निवेश की आवश्यकता पड़ती है। इसकी फ्रेंचाइजी लेने के लिए आपको ₹600000 की आवश्यकता पड़ेगी।  इसके अलावा इंटीरियर डिजाइनिंग आउटलेट से संबंधित सामग्री खरीदने के लिए आपको 14 सोलह लाख रुपए की आवश्यकता पड़ेगी। 

शुरुआती दौर में आपको यह निवेश अधिक लगता है। परंतु यह निवेश वन टाइम होता है इसके पश्चात आपको  बार-बार यह निवेश करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। एक बार चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी लेने के बाद आप इतने समय के लिए आपको फ्रेंचाइजी दी जा रही है।  इतने समय तक आप उसका संचालन कर सकते हैं। इसके लिए आपको चाय सुट्टा बार कंपनी को दो परसेंट   रॉयल्टी देनी पड़ेगी।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस में लाभ

 चाय सुट्टा बार के बिजनेस में आप की काफी संभावनाएं हैं क्योंकि चाय और और इससे जुड़े उत्पाद भारतीयों की  दिनचर्या का हिस्सा है। इसी कारण से चाय हमारे कल्चर में ही  बस गई है। आमतौर पर भारतीय परिवारों में आपको यह देखने को मिल जाएगा की लगभग सभी परिवार सुबह की शुरुआत चाय सही करते हैं।

कई लोग शाम के समय में लेना पसंद करते हैं,  ऐसी बात जो आप समझ सकते हैं चाय की दुकान आपको हर गली नुक्कड़ चौराहे पर मिल जाती है। इस बात से आप इस बिजनेस की लाभ की संभावनाओं को बहुत अच्छे से देख सकते हैं। चाय सुट्टा बार के बिजनेस में आप मंथली  30 से ₹40000 आराम से कमा सकते हैं। आपके द्वारा किया गया निवेश आपको  20 से 25 महीने में पूरा रिटर्न मिल जाता है।

इसके पश्चात आप कंपनी को  दो परसेंट   रॉयल्टी  देकर अपने बिजनेस का संचालन जब तक करते रहे जब तक कि आप की फ्रेंचाइजी की पूरी नहीं हो जाती।  और लाभ कमाते  रहिए।

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस के लिए मार्केटिंग

 वैसे तो चाय सुट्टा बार कंपनी का अपना एक अलग ही बाजार है। वह कंपनी द्वारा ही इसकी मार्केटिंग की जाती है लेकिन चाय सुट्टा बार की शुरुआत करने से पहले भी आप इसकी मार्केटिंग कर सकते हैं जैसे कि शुरुआती समय में आप इसके लिए जगह जगह पर और  होल्डिंग,  पर्चे,  बोर्ड  और न्यूज़पेपर  आदि में भी आप इसके लिए  ऐड दे सकते हैं।

जिससे  कि जिस लोकेशन पर आप अपना स्टोर आउटलेट शुरू करना चाहते हैं । उसके आसपास के पूरे क्षेत्र में इससे संबंधित जानकारी लोगों तक पहुंचे।लोगों को जानकारी मिलेगी तो एक बार जरूर आपके आउटलेट स्टोर पर आएंगे।

एक बार आपके बिजनेस की शुरुआत होने के पश्चात आपको कोई खास प्रचार प्रसार करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी पर शुरुआती दौर में कस्टमर को आकर्षित करने के लिए आपको मार्केटिंग पर थोड़ा ध्यान देना चाहिए।  ताकि आप बिजनेस में लगे  अपने निवेश को  समुचित रिकवरी का अवसर प्रदान कर पाए

चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस में जोखिम

चाय सुट्टा बार के बिजनेस के वैसे तो कोई खास जोखिम नहीं है लेकिन फिर भी आपको इससे संबंधित सारी जानकारी होनी चाहिए। इस प्रकार के बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको किस प्रकार के रजिस्टेंस लाइसेंस पंजीकरण की आवश्यकता होगी। किन किन मानकों का पालन करते हुए आपको इस बिजनेस का संचालन करना होगा। 

बिजनेस का संचालन करते समय आपको उन सभी उच्च मानकों का पालन करना चाहिए। स्वास्थ्य विभाग और सरकार द्वारा निर्देशित किया जाए। एक बात और शुरुआती समय में अधिक निवेश लगता है जो कि किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए शुरुआती दौर में अधिक निवेश की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन कोई भी बिजनेस शुरुआत से ही लाभ देना स्टार्ट नहीं करता है। शुरुआती दो-तीन महीने के बाद अपनी लागत निकालने के बाद  आप बिजनेस से लाभ अपेक्षा कर सकते हैं। इसमें भी ठीक ऐसा ही है।

FAQ

शुरुआती दौर में बिजनेस में कितना लाभ कमाया जा सकता है?

आप इस बिजनेस  30 से 40 हजार रुपए महीने कमा सकते हैं।

क्या इस बिजनेस को शुरू करने में कोई रिस्क है?

नहीं इस बिजनेस को शुरू करने में किसी भी प्रकार का कोई रिस्क नहीं है।

चाय सुट्टा बार का बिजनेस शुरू करने के लिए क्या में किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की आवश्यकता पड़ती है?

जी हां चाय सुट्टा बार का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन लाइसेंस की आवश्यकता पड़ेगी।

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी कितने समय के लिए ली जा सकती है?

वैसे तो चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी 5 वर्ष और  10 वर्ष के लिए दी जा सकती है। इससे संबंधित  पूर्ण  जानकारी आपको चाय सुट्टा बार की ऑफिशियल वेबसाइट पर मिल जाएगी।

चाय सुट्टा बार का बिजनेस शुरू करने के लिए शुरुआती दौर में कितने निवेश की आवश्यकता पड़ती है?

चाय सुट्टा बार का  बिजनेस शुरू करने के लिए आपको शुरुआती दौर में 14 से 16 लाख रुपए की आवश्यकता पड़ेगी।

चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी के लेने के लिए जगह का चुनाव करते समय हमें किस प्रकार की जगह चुनाव करना चाहिए?

चाय सुट्टा बार के बिजनेस शुरू करने के लिए लोकेशन का चुनाव करते समय आपको यह बात ध्यान रखनी चाहिए कि वहां पर लोगों का आना जाना  अधिक हो।

निष्कर्ष

चाय सुट्टा बार का बिजनेस काफी लाभदायक बिजनेस है क्योंकि भारत जैसे देश में चाय की बहुत अधिक है। सर्वे द्वारा  प्रकाशित रिपोर्टों में यह बात कही गई है कि एक आम भारतीय दिन में दो कप चाय कंज्यूम करता है। भारत की आबादी 130 करोड़ के आसपास है। आप इसी बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि इस बिजनेस का भविष्य क्या है। वह इस बिजनेस में कितने लाभ की संभावना है। 

चाय सुट्टा बार अपनी एक वैश्विक पहचान बना ली है। अब चाय सुट्टा बार की फ्रेंचाइजी इंडिया में ही ना होकर विदेशों तक दी जा रही है।  इस बात से आप इसके बाजार  की व्यापकता का पता लगा सकता है। आने वाले समय में इसके और  ग्रोथ  के पूरी संभावना है। वर्तमान समय में भारत में ही  चाय सुट्टा बार के 150 से अधिक आउटलेट से है।

आज के इस आर्टिकल में हमने चाय सुट्टा बार फ्रैंचाइज़ी कैसे ले ? (Chai Sutta Bar Franchise Hindi) इसके बारे में संपूर्ण जानकारी आप तक पहुंचाई है। हमें पूरी उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपके लिए काफी ज्यादा हेल्पफुल रही होगी।

यह भी पढ़े :

दूध का व्यापार कैसे करे?

JioMart फ्रैंचाइज़ी कैसे लें?

भारत में Apple Store फ्रेंचाइजी कैसे खोले?

एवरेस्ट मसाले डिस्ट्रीब्यूटरशिप कैसे लें?

Leave a Comment