मोबाइल शॉप बिजनेस कैसे शुरू करें?

Mobile Shop Business Plan in Hindi: आप सभी लोग जानते हैं कि जब से हमारा देश डिजिटल हुआ है तब से हमारे देश में हर एक व्यक्ति के पास में मोबाइल फोन स्मार्टफोन हैं। मजदूर वर्ग से लेकर अमीर वर्ग तक के लोगों के पास में अलग-अलग प्रकार के मोबाइल पर देखे जाते हैं।

लोग मोबाइल फोन ऑनलाइन भी खरीदते हैं। इसके अलावा मोबाइल की शॉप से भी मोबाइल खरीद लेते हैं। लेकिन मोबाइल फोन रखना आज के समय में बहुत अनिवार्य हो गया है।

आज अगर आप मोबाइल फोन की दुकान खोलना चाहते हैं तो यह आपके फ्यूचर के लिए बहुत अच्छा रहेगा। क्योंकि आज इस डिजिटल जमाने में मोबाइल फोन की वॉल्यूम बहुत बढ़ती जा रही है। लोग अधिकतर संख्या में मोबाइल फोन खरीदते हैं, इसीलिए आप मोबाइल फ़ोन की दुकान खोल सकते है।

Mobile Shop Business Plan in Hindi
Image: Mobile Shop Business Plan in Hindi

मोबाइल फ़ोन की दुकान कैसे खोली जाती है? (Mobile Shop Business Plan in Hindi), इसमें कितनी लागत लगती है?, इन सभी के बारे में आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे। आइए मोबाइल फोन की शॉप कैसे खोलते हैं? (Mobile Business Ideas in Hindi) इसके बारे में जानते हैं।

मोबाइल शॉप बिजनेस कैसे शुरू करें? | Mobile Shop Business Plan in Hindi

Table of Contents

मोबाइल की दुकान की बिजनेस संभावना

मोबाइल की दुकान को खोलने से पहले मन में यह विचार जरूर आता है कि क्या यह व्यवसाय लंबे समय तक चलेगा? यदि आपके मन में भी यही सवाल है तो बता दें बेशक मोबाइल शॉप बिजनेस का भविष्य बहुत ही अच्छा है। क्योंकि आज के समय में मोबाइल हर व्यक्ति की आवश्यकता बन चुकी है।

आज ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा, जिसके पास फोन ना हो फिर चाहे उसकी आर्थिक स्थिति कितनी ही खराब क्यों ना हो। यहां तक कि जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ रही है, लोगों का फोन के तरफ आकर्षण और भी ज्यादा बढ़ते जा रहा है।

पहले जहां फोन के अविष्कार होने के बाद फोन बातचीत करने के लिए एक जरूरी उपकरण था, वहीँ आज ये लोगों का शौक बन चुका है। आज हर एक व्यक्ति के दिन की शुरुआत मोबाइल फोन के साथ ही होती है और दिन का अंत भी मोबाइल फोन के साथ ही होता है।

ऐसे में आप समझ सकते हैं कि बाजार में मोबाइल कि कितनी डिमांड है। हालांकि ऐसे में यह भी सवाल उठता है कि जिस व्यक्ति ने एक बार फोन ले लिया व दोबारा क्यों लेगा क्योंकि एक फोन को आराम से चार-पांच सालों तक चलाया जा सकता है।

लेकिन आज हर दिन मार्केट में नए-नए ब्रांड के फोन नए फीचर्स के साथ आते रहते हैं और ये फीचर्स लोगों को काफी आकर्षित करते हैं, इसी के कारण आज कोई भी व्यक्ति एक फोन को 1 साल से ज्यादा नहीं चलाता।  वह 1 साल के बाद दोबारा नए फोन को खरीदता है, इसी के कारण मोबाइल फोन के दुकान के व्यवसाय के चलने की संभावना काफी ज्यादा है।

मोबाइल की दुकान

मोबाइल फोन की दुकान वह होती है, जिसमें अलग-अलग प्रकार के और विभिन्न कंपनियों मोबाइल के दुकान में रखे जाते हैं। इसके अलावा मोबाइल से जुड़ी एसेसरीज को हम इस दुकान में रखते हैं। क्योंकि मोबाइल के साथ-साथ हमें सभी एसेसरीज की जरूरत पड़ती है।

इसके अलावा हमें कंप्यूटर या लैपटॉप भी रखना होता है। क्योंकि कई बार मोबाइल में सॉफ्टवेयर को अपडेट करवाना होता है। इन सब चीजों को मिलाकर एक मोबाइल की दुकान बनती है।

मोबाइल दुकान कैसे खोलें? (Mobile ki Dukan Kaise Khole)

मोबाइल फोन की दुकान शुरू करने के लिए कम से कम आपको 7 से 10 लाख रुपए की लागत लगती है। आप सब लोग जानते हैं कि मोबाइल फोन बहुत महंगे आते हैं। कम कीमत वाले फोन भी आते हैं, लेकिन कौन ग्राहक कौनसे फोन की डिमांड कर दें, यह पता नहीं होता है। इसलिए सभी प्रकार के फोन की वैरायटी आपको दुकान के लिए रखनी होंगी।

इसके अलावा मोबाइल फोन एसेसरीज भी हमें रखनी पड़ती है। क्योंकि मोबाइल में छोटी और बड़ी सभी प्रकार की समस्याएं आती रहती हैं। इसके लिए आप अपनी दुकान में मोबाइल फोन से जुड़े सभी प्रकार के सामान दुकान में रखेंगे तो आपको अच्छा मुनाफा मिल सकता है।

यह भी पढ़े: मोबाइल रिचार्ज बिजनेस कैसे करें?

मोबाइल फोन की दुकान किस प्रकार करें?

आप जब मोबाइल फोन की दुकान खोल रहे हैं तो आपको उसमें यह तय करना होगा कि आप किस प्रकार से मोबाइल फोन की दुकान खोलना चाहोगे। आप खाली एक ही कंपनी के मोबाइल फोन को रख कर अपनी दुकान खोलना चाहोगे या फिर अलग-अलग कंपनियों के फोन के साथ मोबाइल एसेसरीज, चार्जर, मोबाइल कवर सभी चीजों को अपनी दुकान में रखना चाहोगे जो आपके ऊपर डिपेंड करता है।

लेकिन आप अगर मोबाइल फोन के लिए सभी प्रकार के सामान रखोगे तो आपके लिए बहुत अच्छा होगा। इसके अलावा आज किसी के पास में एक साथ इतना पैसा नहीं होता कि वह इतना महंगा फोन खरीद सके। इसके लिए आपको अपनी दुकान में कुछ फाइनेंस की सुविधा भी अपने फोन के लिए रखनी होगी, जिससे कस्टमरस का आना जाना ज्यादा संख्या में हो।

क्योंकि फाइनेंस एक अच्छा तरीका है, जिससे अधिक संख्या में लोग आपकी दुकान पर आएंगे। इससे आपके फोन की सेल अच्छी होगी। इसके अलावा भी मोबाइल से जुड़े अन्य असेसरीज भी आपकी बिक जायेंगी, आपको बहुत मुनाफा होगा।

मोबाइल फोन की दुकान के लिए लागत (mobile shop opening cost)

मोबाइल फोन की दुकान के लिए कम से कम 5 से 7 लाख की लागत आपके पास होने चाहिए। तभी आप मोबाइल फोन की दुकान खोल सकते है। क्योंकि इसमें सबसे ज्यादा खर्चा मोबाइल फोन को खरीदने में आता है। मोबाइल फोन महंगे आते हैं।

उसके बाद आपको दुकान के फर्नीचर पर खर्चा करना पड़ता है। क्योंकि मोबाइल शॉप के बिजनेस में फर्नीचर बहुत मायने रखता है। इसीलिए फर्नीचर करवाना ही पड़ेगा, जिसके लिए आपको लगभग 30 से 35 हजार का लागत लग सकता है।

हालांकि यह खर्चा दुकान के आकार के अनुसार घट बढ़ भी सकता है। इसके अतिरिक्त आपको दुकान के रेंट का भी खर्चा लगता है। यदि आप दुकान के लिए खुद की जमीन खरीदते हैं तो आपको और भी ज्यादा लागत की जरूरत पड़ सकती है और यदि जमीन खुद की है तो ये खर्चा बच सकता है। आपको कुछ स्टाफ नियुक्त करने पड़ते हैं, ऐसे में आपको उनकी सैलरी को भी अपने लागत में जोड़ना पड़ेगा।

भारत सरकार के द्वारा एक आर्थिक सहायता के रूप में रोजगार करने वाले लोगों के लिए लोन भी दिए जा रहे हैं। अगर आपके पास में पैसा नहीं है तो आप सरकार से भी आर्थिक सहायता ले सकते है। आपको 7 से 8 लाख तक का लोन आराम से मिल जाएगा।

मोबाइल फोन के लिए मार्केट रिसर्च

जब आप मोबाइल फोन की दुकान खोलने का मन बना रहे हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको सभी प्रकार के मोबाइल फोनों की जानकारी लेनी होगी। आपको मार्केट में छोटी-बड़ी सभी दुकानों पर इसके बारे में समझना होगा। क्योंकि जब तक आपके पास मोबाइल फोन के बारे में  जानकारी नहीं होगी तो आप के लिए बहुत परेशानी हो जाएगी।

आपको मार्केट में सबसे पहले इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करनी होगी। उसके बाद ही आप मोबाइल की शॉप खोल चाहिए जो कि आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा। आजकल आगे बढ़ाने के लिए ऑनलाइन ऑफलाइन दोनों ही प्रकार से भी आप अपने मोबाइल की दुकान को बढ़ा सकते हो।

यह भी पढ़े: मोबाइल से घर बैठे पैसे कैसे कमाए?

सही ब्रांड और प्रोडक्ट्स का चयन करें

हालांकि मोबाइल की दुकान में हर तरह के मोबाइल को बेचा जा सकता है। आप चाइनीज या किसी अन्य प्रकार के ब्रांड के फोन भी बेच सकते हैं लेकिन यदि आप चाहते हैं कि आपका नुकसान ना हो और ज्यादा से ज्यादा आपकी प्रॉफिट हो तो अपने दुकान में ऐसे ही फोन की बिक्री करें जो मार्केट में नया लांच हुआ हो और जिसका इस्तेमाल ज्यादा हो रहा हो।

उदाहरण के लिए आप सैमसंग, एमआई, ओप्पो, विवो जैसी कंपनियों के फोन को बेच सकते हैं। क्योंकि फिलहाल यह कंपनियां काफी प्रख्यात है और इन कंपनियों का फोन बहुत ज्यादा बिकते हैं। हालांकि हो सकता है भविष्य में और भी कंपनियां आ सकती है, उसके लिए आपको ध्यान देना पड़ेगा।

आप चाहे तो किसी एक कंपनी के फोन को भी बेच सकते हैं बस आप ऐसी कंपनी का चुनाव करें, जिसका बाजार में ज्यादा डिमांड हो। इन चीजों की जानकारी मार्केट रिसर्च से पता लगा सकते हैं। मार्केट रिसर्च से आपको पता चल जाएगा कि मार्केट में किस ब्रांड के फोन की ज्यादा बिक्री हो रही है।

मोबाइल फोन की दुकान के लिए सामानों की आवश्यकता

मोबाइल फोन की दुकान के लिए आपको छोटे कीपैड से लेकर स्मार्टफोन तक सभी प्रकार के मोबाइल फ़ोन आपको अपनी दुकान में रखने होंगे। इसके अलावा मोबाइल फोन की बैटरी, चार्जर, डाटा केबल आदि।

इन सभी को भी आपको दुकान में रखना होगा। सबसे महत्वपूर्ण आपको अपने मोबाइल की दुकान में कंप्यूटर और आपकी दुकान की सेफ्टी के लिए सीसीटीवी कैमरे, ग्राहकों से ऑनलाइन पेमेंट के लिए स्वाइपिंग मशीन इन सबकी बेहद आवश्यकता पड़ती है।

क्योंकि आजकल स्मार्टफोन की वजह से किसी के पास हाथ में पैसे नहीं होते हैं। इसलिए आपके पास में यह सब होना जरूरी है। इसके अलावा आप मोबाइल फोन की दुकान में मोबाइल फोन के रिपेयरिंग का काम भी कर सकते है। क्योंकि आज मोबाइल फोन में सबसे अच्छा मुनाफा रिपेयरिंग में ही मिलता है। इसके साथ-साथ आप नए सिम कार्ड भी रख सकते हो।

मोबाइल की दुकान के लिए सभी चीजें खरीदने की जगह

आप मोबाइल फोन की दुकान खोल रहे हैं तो इसके लिए आपको मोबाइल फोन कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर के माध्यम से आपको दुकान पर ही मिल जाएंगे। इसके अलावा आपको रिपेयरिंग के लिए अनुभवी कर्मचारी रखना होगा। इसके साथ-साथ मोबाइल फोन की बैटरी, चार्जर, फोन कवर आदि के लिए जो मोबाइल फोन की थोक की मार्केट है, वहां से आप इन चीजों को कम दामों में खरीद कर ला सकते हैं।

इसके अलावा आप ऑनलाइन भी इन चीजों को देख सकते हो। क्योंकि ऑनलाइन भी कम कीमतों में आपको सामान अच्छा मिल जाएगा, जो मोबाइल फोन की होलसेल की दुकान है या होलसेल का मार्केट है, वहां से अगर आप लोगे तो शायद ज्यादा फायदे में रहोगे।

मोबाइल फोन की दुकान के लिए लोकेशन

मोबाइल फोन की दुकान के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होती है जगह। अगर आपको जगह अच्छी मिल जाती है तो आपकी दुकान बहुत अच्छी भी चल जाएगी। जगह का चुनाव अगर आपने सही नहीं किया तो आपको कुछ टाइम में अपने मोबाइल की दुकान को शायद बंद भी करना पड़ सकता है।

मोबाइल फोन की दुकान के लिए आपको ऐसी जगह का चयन करना होगा, जहां पर ज्यादा संख्या में लोग आते जाते हैं। जैसे मेन मार्केट, चौराहा, गली, मोहल्ला, मॉल आदि जगह पर ज्यादा संख्या में लोग आते हैं तो आप वहां दुकान खोल सकते है।

जब भी आप दुकान के लिए जगह देखें तो इस बात का भी खास ध्यान रखें कि जिस जगह दुकान है, वहां पर लोग कैसे रहते हैं। मतलब कि वहां के लोगों को फोन की कीमत के बारे में पता है या नहीं। ऐसा हो सकता है कि वह लोग मोबाइल फोन स्मार्टफोन की कीमत पर अफोर्ड ना कर पाए।

इस बात का पता करने के लिए आपको वहां की जो भी मोबाइल शॉप है, उन पर नजर रखनी होगी और देखना होगा कि कितने कस्टमर का वहां आना जाना है और कितनी बिक्री हो पाती है।

जब आप अपने मोबाइल के दुकान के लिए सही लोकेशन का चयन कर लेते हैं तो अब बारी आती है मोबाइल के दुकान के लिए आवश्यक जगह का पता करना। हालांकि यदि आप एक सामान्य आकार का मोबाइल का दुकान खोलना चाहते हैं तो 10 बाई 15 वर्ग फुट के कमरे में मोबाइल की दुकान को स्थापित कर सकते हैं।

लेकिन यदि आप बड़े और ज्यादा लागत के साथ मोबाइल का दुकान खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ज्यादा जगह की आवश्यकता पड़ सकती है। यह आपके व्यवसाय के स्तर पर निर्भर करता है।

यह भी पढ़े: मोबाइल बैक कवर प्रिंटिंग बिज़नेस कैसे शुरू करें?

दुकान की इंटीरियर डिजाइन

मोबाइल की दुकान के लिए उसका इंटीरियर डिजाइन बहुत मायने रखता है ग्राहकों को दुकान की ओर आकर्षित करने के लिए। मात्र मोबाइल खरीद लेने से और दुकान खोल देने मोबाइल का दुकान नहीं चलता। आप जितना अच्छा आकर्षक लुक अपने दुकान को देंगे, आपके मोबाइल के बिकने की संभावना और भी ज्यादा बढ़ जाती हैं।

इसलिए मोबाइल के दुकान के इंटीरियर डिजाइन पर भी ध्यान देना बहुत ही जरूरी है। जैसा आप जानते हैं कि अधिकतर मोबाइल के दुकानों में ग्लास काउंटर लगे होते हैं, जो बहुत ही ज्यादा मायने रखते हैं। क्योंकि इस ग्लास काउंटर के नीचे रैंक लगी होती है, जहां पर आप अलग अलग ब्रांड के फोन को सैंपल के रूप में रख सकते हैं, जिसे ग्राहक देख करके पसंद कर सकता है।

इसीलिए आपको अपने दुकान में ग्लास के काउंटर बनाने होंगे। काउंटर की साइज आप अपने दुकान के एरिया के अनुसार रख सकते हैं। इसके अलावा आपको दीवारों पर भी अलमारी बनाना पड़ेगा, उसके सामने भी आपको कांच लगाने पड़ेंगे। ताकि उन अलमीरा पर रखे गए सामान ग्राहकों को सीधे दिख सके।

इसके अलावा ग्राहकों को बैठने के लिए गद्देदार टेबल या सोफे की भी जरूरत पड़ेगी। दुकान में फर्नीचर के अलावा आपको पंखा, एसी और सही लाइटनिंग की सुविधा करानी होगी ताकि आपका दुकान पूरा आकर्षक दिखे। आप अपने काउंटर पर कंप्यूटर या लैपटॉप रख सकते हैं। साथ ही आपको एक प्रिंटर भी रखना होगा ताकि आप कस्टमर को बिल प्रिंट करके दे सके।

मोबाइल शॉप बिज़नेस प्रॉफिट (Mobile Shop Business Profit)

मोबाइल फोन की दुकान में आपको मोबाइलों के माध्यम से इतना फायदा नहीं मिल पाता। लेकिन एसेसरीज और जो भी मोबाइल के अन्य सामान है, उन्हें आपको बहुत मुनाफा मिल जाता है। शुरुआत में यह थोड़ा कम होगा, लेकिन धीरे-धीरे जैसे-जैसे आप की सेल बढ़ती जाएगी तो आप का मुनाफा भी बढ़ता जाएगा।

आपको अपने मोबाइल फोन की दुकान में रिपेयरिंग के माध्यम से भी मुनाफा आसानी से मिल जाता है। लेकिन एक बात का विशेष ध्यान रखना होगा कि आप गलत रेट के चक्कर में अपने ग्राहकों को ना खो दें, इसीलिए अपने कस्टमर बनाने के लिए सबसे पहले आपको अपने दुकान के रेट सही रखने होंगे।

मोबाइल फोन की दुकान से आपको हर महीने लगभग 40 से ₹50 हजार रुपए का मुनाफा प्राप्त हो सकता है। इसमें आपके सभी दुकान के खर्चे काटने के बाद यह पूरा प्रॉफिट आपको मिल सकता है।

मोबाइल फोन की दुकान के लिए स्टाफ

आपको अपने मोबाइल फोन की दुकान के लिए शुरुआत में 2-3 स्टाफ की आवश्यकता तो पड़ती है। क्योंकि एक अकाउंट सेक्शन को देखेगा, एक मोबाइल फोन को दिखाने के लिए, मोबाइल रिपेयरिंग के लिए अलग स्टाफ रखना पड़ता है।

इन स्टाफ को आप मंथली सैलेरी पर भी रख सकते हैं वहीँ आप मोबाइल रिपेयरिंग के लिए जिस स्टाफ को नियुक्त करते हैं, उसे मंथली सैलरी के अतिरिक्त आप चाहे तो उसे इस शर्त पर रख सकते हैं कि वह जितना ज्यादा मोबाइल को रिपेयर करेगा, आप उसी के अनुसार उसको पैसा देंगे। यह आप पर निर्भर करता है कि आप उसे किस तरीके से रखना पसंद करते हैं।

इसके अलावा आपको खुद भी सभी कामों को देखने का अनुभव जरूर होना चाहिए। ताकि अगर कोई स्टाफ मेम्बर ना आए तो आप उसकी अनुपस्थिति में वह काम कर सके। सबसे जरूरी चीज आपके दुकान में फाइनेंस की व्यवस्था सही होनी चाहिए।

यह भी पढ़े: मोबाइल टेम्पर्ड ग्लास बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें?

मोबाइल फोन की दुकान के लिए लाइसेंस

आज भारत सरकार ने कोई भी व्यापार हो चाहे छोटा या बड़ा सभी के लिए जीएसटी नंबर अनिवार्य कर दिया है। इसके द्वारा आपको अपने मोबाइल फोन की दुकान के लिए अपने जरूरी कागजात ऑनलाइन जमा करवा कर जीएसटी नंबर लेना होगा। उसके बाद आपको सरकार के द्वारा ट्रेडमार्क मिल जाएगा। उससे आपको किसी प्रकार की कोई असुविधा भी नहीं होगी।

मोबाइल की दुकान के लिए आपको एक बिजनेस का भी रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके बाद ही आप जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो। आपको अपनी दुकान के रजिस्ट्रेशन के लिए स्टेट गवर्नमेंट के लेबर डिपार्टमेंट में शॉप एंड इस्टैब्लिशमेंट एक्ट के अंतर्गत आपको अपनी शॉप का रजिस्ट्रेशन करना होगा। इसके बाद ही आप अपना जीएसटी नंबर ले पाएंगे।

दुकान की सेल कैसे बढ़ाये?

मोबाइल की दुकान पर आप अपनी दुकान में रखी सभी चीजों की सेल को अगर बढ़ाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको सभी कंपनियों के मोबाइल फोन के विज्ञापन और पोस्टर अपनी दुकान के बाहर लगवाने चाहिए। इसके अलावा बड़े-बड़े त्योहारों पर आपको मोबाइल फोन पर कुछ डिस्काउंट या नए-नए आकर्षक गिफ्ट के ऑफर देकर ग्राहकों को मोबाइल फोन बेचने चाहिए।

इससे लोग अधिक संख्या में आपकी दुकान पर आएंगे और आपके मोबाइल फोनों की बिक्री बढ़ जाएगी। आज के समय में सभी लोगों को यह रहता है कि हम कोई भी चीज खरीदी उसके साथ कुछ मुफ्त मिल जाए तो ग्राहकों को बहुत खुशी मिलती है। इससे आप अपने मोबाइल फोन की बिक्री बहुत अच्छे से बढ़ा सकते हो।

जब हम ग्राहकों को खुश रखेंगे तो हमारी बिक्री में बहुत बढ़त मिलेगी। आप अन्य दुकानदारों की तुलना में अपनी दुकान पर कुछ इस तरह की सुविधाएं रखें। जिससे कस्टमर आपके काम से जैसे आप रिपेयरिंग का काम कर रहे हो तो उसमें कस्टमर को गारंटी और वारंटी देखकर उनके फोन को ठीक कर सकते है।

इससे अधिक संख्या में आपकी दुकान पर कस्टमर आएंगे और खुश भी रहेंगे। जब आप उनको अच्छा काम करके दोगे। इसके बाद वह आपसे ही नए मोबाइल फोन लेना पसंद करेंगे।

मोबाइल की दुकान के लिए डिस्ट्रीब्यूटर

मोबाइल फोन की दुकान के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है डिस्ट्रीब्यूटर। क्योंकि डिस्ट्रीब्यूटर की मदद से ही हमको दुकान पर ही सभी सामान मिल जाते हैं। हमको कहीं बाहर जाने की जरूरत नहीं होती है। डिस्ट्रीब्यूटर के द्वारा होलसेल की मार्केट में जो मोबाइल फोन या अन्य एसेसरीज की कीमत मिलती है, उससे भी कम कीमत में डिस्ट्रीब्यूटर हमको दुकान पर ही सभी वस्तुएं लाकर दे देता है।

मोबाइल फोन, एसेसरीज आदि जो भी मोबाइल से जुड़ी हुई चीजें हैं, वह सभी हमको दुकान पर ही आसानी से मिल जाती हैं। इससे हमारा ट्रांसपोर्ट का खर्चा भी बच जाता है और समय भी बच जाता है। इसीलिए सबसे ज्यादा अहम कड़ी मोबाइल की दुकान में डिस्ट्रीब्यूटर की ही होती है।

ईएमआई की सुविधा उपलब्ध कराएं

आपको पता है कि अभी के समय में ज्यादातर लोग फोन ऑनलाइन लेना पसंद करते हैं, इसका एक महत्वपूर्ण कारण यह भी है कि ऑनलाइन ईएमआई की सुविधा मिल जाती है, जिसके कारण किसी के पास पैसे ना होने के बावजूद भी वह फोन ले पाता है।

ऐसे में यदि आप अपने फोन के दुकान में ईएमआई की सुविधा उपलब्ध कराते हैं तो ऐसे में जिन ग्राहकों की फिनेंशियल स्थिति अच्छी नहीं है, वह भी आपके दुकान से फोन ले पाएंगे और मंथली इंस्टॉलमेंट से पैसा चुका पाएंगे। इससे यह फायदा होगा कि ज्यादा से ज्यादा लोग बिना बजट की चिंता किये आपके दुकान से फोन खरीद पाएंगे।

यह भी पढ़े: मोबाइल टावर लगवाकर पैसे कैसे कमाएं?

मोबाइल की दुकान की अधिक मार्केटिंग

आजकल मार्केट में बहुत कंपटीशन बहुत हो गया है। आपको मोबाइल फोन की दुकान हर जगह देखने को मिल जाएगी। इसके लिए आपको अपने मोबाइल फ़ोन की दुकान के प्रचार के लिए सबसे अधिक प्रयोग आपको सोशल मीडिया पर करना होगा।

ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से भी आप उसका प्रचार कर सकते हो। फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप इन सभी पर आप अपनी दुकान की विशेषताओं के बारे में प्रचार कर सकते है।

आप अपनी दुकान का प्रमोशन पोस्टर छपवा कर भी कर सकते है। आजकल ऑनलाइन सबसे अच्छा साधन है, अपने व्यापार के प्रमोशन के लिए क्योंकि सबसे अधिक लोग सोशल मीडिया पर सक्रिय रहते हैं और ऑनलाइन वेबसाइट पर भी नई दुकानों के बारे में तलाश करते रहते हैं।

आपकी दुकान की मार्केटिंग के लिए सबसे अच्छा प्लेटफार्म आपको ऑनलाइन का ही रहेगा। हालांकि आप कुछ ज्यादा खर्चा करके टीवी, न्यूज़पेपर और रेडियो पर भी विज्ञापन दिलवा सकते हैं।

मोबाइल फोन की दुकान के साथ रिपेयरिंग

आप अगर मोबाइल फोन की दुकान को खोल रहे है तो उसके लिए सबसे ज्यादा मुनाफे का काम रिपेयरिंग से ही होता है और कस्टमर भी अधिक जोड़ते हैं। अगर एक कस्टमर आप से संतुष्ट हो गया तो वह चार और नए कस्टमर आपके लिए बनवा देगा।

सबसे अधिक अहम भूमिका रिपेयरिंग की होती है। क्योंकि अक्सर जब हम नए स्मार्टफोन खरीदते हैं तो कभी कुछ कभी कुछ की प्रॉब्लम आती ही रहती है। इन छोटी-छोटी समस्याओं के लिए लोग अपने मोबाइल फोन को बार-बार नहीं बदल सकते, इसीलिए उनको रिपेयर करवा लेते हैं।

रिपेयरिंग के काम से आपकी मोबाइल की दुकान बहुत अच्छी चलती है। यह दोनों काम साथ साथ हो तो इससे आपका व्यवसाय बहुत अच्छा चलेगा। हालांकि यदि आपको खुद रिपेयरिंग करना आता है तो ज्यादा अच्छा होगा। लेकिन यदि आपको रिपेयरिंग नहीं आती तो आपको स्टाफ को भी नियुक्त करने की जरूरत पड़ सकती है।

ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा दें

जैसा आपको पता है कि आज का समय डिजिटल का है। आज कोई भी ज्यादा पैसे जेब में लेकर नहीं घूमता। आज ज्यादातर लोग पेमेंट ऑनलाइन ही करते हैं, ऐसे में अपने फोन के दुकान में ऑनलाइन पेमेंट का जरिया उपलब्ध कराना बहुत ही जरूरी है। आप पेटीएम, गूगल पे, क्रेडिट कार्ड इत्यादि के इस्तेमाल करने की अनुमति दे सकते हैं। 

मोबाइल फोन की दुकान में रिस्क

जब हम कोई भी व्यापार शुरू करते हैं तो उसमें हमको फायदा नुकसान दोनों ही चीजें सोचने पड़ती है। क्योंकि शुरुआत में किसी भी दुकान या व्यापार को चलाते हैं तो बहुत कम मुनाफा मिलता है, उसमें लोग घबरा जाते हैं और अपना काम बंद कर देते हैं।

क्योंकि काम में थोड़ा समय लगता है, इसीलिए मोबाइल के काम में भी यही रिस्क होता है। कम से कम 6 महीने का समय चाहिए होता है, वो आपकी दुकान को चलाने में। उसके बाद आप की दुकान की सेल बहुत अच्छी होगी और आपको मुनाफा भी अच्छा मिलना शुरू हो जाएगा।

यह सब बातें अब आपके खुद के ऊपर निर्भर करेंगे कि आप ग्राहकों को किस तरह से अपनी दुकान की तरफ आकर्षित करते हो, किस प्रकार से अपनी दुकान का प्रमोशन करते हो कोई ग्राहक आपके काम से परेशान तो नहीं है। इन सब बातों का ध्यान में रखना बहुत जरूरी होता है, इसीलिए थोड़ा रिस्क रहता है।

FAQ

क्या मोबाइल फोन की दुकान खोलना कोई घाटे का काम तो नहीं है?

बिल्कुल भी नहीं।

मोबाइल फोन की दुकान कितने रुपए में शुरू की जा सकती है?

5 से 7 लाख रुपये।

मोबाइल फ़ोन की दुकान में लाइसेंस बनवाना जरूरी होता है?

हां, सबसे जरूरी होता है।

मोबाइल फोन की दुकान में कितने रुपए तक का मुनाफा प्राप्त हो सकता है?

40 हजार रुपये तक।

मोबाइल फोन के साथ रिपेयरिंग का काम करना सही रहता है?

रिपेयरिंग का काम सबसे ज्यादा सही होता है।

मोबाइल फोन के साथ साथ दुकान में क्या रखना जरूरी होता है?

सिम कार्ड, मोबाइल रिपेयरिंग, मोबाइल एसेसरीज, कवर,ऑनलाइन फाइनेंस आदि।

निष्कर्ष

मोबाइल फोन का व्यापार करना बहुत फायदेमंद है। अगर आपने इस व्यापार को अच्छे से या सही ढंग से चलाया है तो इस व्यवसाय में आपको बहुत मुनाफा हो सकता है। जब भी हम कोई नया काम करते हैं तो उसमें हमको फायदा नुकसान दोनों ही हो सकते हैं। मोबाइल फोन की दुकान के लिए आपको इसकी सही जानकारी होनी चाहिए, जिससे आपको दुकान खोलने में कोई परेशानी ना हो।

मोबाइल फोन के लिए जगह आपका बजट किस प्रकार के आप उसमें सामान रखोगे, इन सभी चीजों को भी आपको बहुत ध्यान में रखना होगा। इसके अलावा आजकल बाजार में बहुत कंपटीशन हो गया है। बहुत छोटी-छोटी, बड़ी-बड़ी दुकानें मोबाइल के खुलने लग गई है।

इन सभी को देखते हुए आपको अपना काम बहुत अच्छे और सही ढंग से करना होगा। क्योंकि मोबाइल का काम करने में अगर सही ढंग से करा जाए तो बहुत मुनाफा मिल सकता है। आज हमने आपको बिजनेस आइडिया में मोबाइल फोन की दुकान (Mobile Shop Business Ideas in Hindi) के बारे में इस आर्टिकल में पूरी जानकारी दी है।

उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख “मोबाइल शॉप बिजनेस कैसे शुरू करें? (Mobile Shop Business Plan in Hindi)” पसंद आया होगा। आपको यह लेख कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। यदि आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स के जरिये आप हमारे तक पहुंचा सकते है।

यह भी पढ़े

एलईडी लाइट का बिजनेस कैसे शुरू करें?

डिलीवरी बॉय बनकर पैसे कैसे कमाएं?

शेयर मार्केटिंग का बिजनेस कैसे शुरू करें?

किराना स्टोर का बिजनेस कैसे शुरू करें?

Leave a Comment