टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें?

Tiffin Service Business Plan in Hindi: आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं भारत में टिफिन बिजनेस सर्विस कैसे शुरू किया जाए क्योंकि वर्तमान परिवेश में यह सेवा लोगों की आवश्यकता के रूप में सामने निकलकर आया है। जैसा कि हम देखते हैं, व्यक्ति शिक्षा रोजगार व्यवसाय के लिए अपने निवास स्थान से दूर जाकर रहता है।

इसके अलावा आज के समय में एकल परिवारों की भी संख्या बढ़ती जा रही है, जिनके लिए भोजन एक व्यापक समस्या के रूप में निकल कर आता है। विद्यार्थी के लिए टिफिन, ऑफिस जाने वालों के लिए लंच तैयार करने का समय नहीं होता है। इसी समस्या को दूर करने के लिए टिफिन बिजनेस सेवा निकल कर आई है, जो व्यक्तियों को समय पर भोजन सुविधा उपलब्ध कराती है।

Tiffin-Service-Business-Plan-in-Hindi-
Image: Tiffin Service Business Plan in Hindi

टिफिन सेवा का आशय एक ऐसे व्यवसाय से है, जिसमें व्यवसायी लोगों तक खाना लेकर जाता है। जो अपने घरों से दूर शिक्षा पाने के लिए या रोजगार के उद्देश्य से रह रहे हैं एवं भोजन की समस्या से जूझ रहे हैं। क्योंकि उन्हें या तो खाना बनाना नहीं आता या फिर उनके पास समय नहीं है। टिफिन सेवा के द्वारा ऐसे व्यक्तियों को उनके नियत स्थान पर भोजन पहुंचाया जाता है।

इसलिए टिफिन सर्विस से आशय ग्राहकों को भोजन की सुविधा मुहैया कराने से है। यह भोजन बाहर मिलने वाले भोजनालय, ढाबे या रेस्टोरेंट्स से अलग होता है। क्योंकि इनमें  घरेलू तरीके से यानी, मसालों आदि का प्रयोग इस तरीके से किया जाता है कि भोजन करने वाले को घर की कमी महसूस ना हो एवं टिफिन सर्विस में स्वच्छता का विशेष रूप से ध्यान दिया जाता है।

यही कारण है कि यह सर्विस कम समय में ही बहुत अधिक प्रचलित हो गई है। भारत में उद्यमियों के द्वारा इसे स्टार्टअप के रूप में देखा जा रहा है। क्योंकि यह व्यवसाय व्यक्तियों के काफी करीब होता है।

टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें? | Tiffin Service Business Plan in Hindi

Table of Contents

भारत में टिफिन का व्यापार

टिफिन सेवा व्यवसाय (tiffin service business) शुरू करना एक बहुत ही आसान कार्य है। क्योंकि इसमें किसी विशेष उपकरण और संसाधनों की आवश्यकता नहीं होती है। कोई भी व्यवसाय या व्यक्ति अपने निजी किचन से भी यह व्यवसाय शुरू कर सकता है। इसके लिए आपको यह विशेष रूप से ध्यान रखना होगा कि यह व्यवसाय व्यक्ति के स्वाद पर निर्भर करता है।

यदि आपके द्वारा प्रदान किया गया भोजन एक निश्चित मापदंड पर नहीं है तो व्यक्ति आपके टिफिन का भोजन खाने से मना भी कर सकता है। इसलिए आपके द्वारा जो भी भोजन टिफिन में दिया जाएगा वह स्वादिष्ट और  घर के जैसा होना चाहिए। ताकि व्यक्तियों को घर की कमी महसूस ना हो और उन्हें घर का स्वाद आपके टिफिन में मिल सके।

टिफिन सर्विस से तात्पर्य

टिफिन सर्विस का मुख्य थे यह अर्थ होता है कि इसमें लोगों को घर जैसा खाना अच्छा उपलब्ध कराया जाता है, जो भी व्यक्ति अपने घर से दूर रह रहे हैं, उनको अपने घर के जैसे स्वाद वाला खाना मिल जाता है। इस काम को कोई भी कर सकता है लेकिन यह एक ग्रहणी के लिए बहुत अच्छा अवसर है इस काम की शुरुआत को करने का और कम लागत में अधिक मुनाफा भी इस व्यापार में कमाया जा सकता है।

भारत में टिफिन सर्विस की मांग

यह एक ऐसा व्यापार है, जो कि बहुत ही कम लागत में शुरू किया जा सकता है और लोगों को घर जैसा खाना भी उपलब्ध करवाता है। बहुत से लोग पढ़ाई के लिए नौकरी के लिए अपने घरों से दूर रहते हैं, उनको हमेशा जंग फूड धारी होटल का खाना खाना पड़ता है।

घर जैसा खाना उनको नहीं मिल पाता इसीलिए आजकल बड़े बड़े नगरों में महानगरों में शहरों में सभी जगह टिफिन सर्विस का व्यापार बहुत अधिक फैल रहा है।

टिफिन के व्यापार के लिए लागत

वर्तमान समय में मुख्यतः महानगरों और बड़े शहरों में टिफिन सेंटर एक अच्छा व्यवसाय बन कर आया है। क्योंकि यह ऐसे शहर होते हैं, जहां व्यक्ति छोटे स्थानों से आकर कार्य और शिक्षा के लिए रह रहा होता है और संसाधनों एवं समय की कमी के कारण वह टिफिन सेंटर से टिफिन लेकर ही भोजन करता है।

ऐसे में टिफिन सेंटर (tiffin centre business) बहुत ही बड़े स्तर पर फल फूल रहा है, जो भी व्यवसाय या उद्यमी टिफिन सेंटर में अपना हाथ आजमाना चाहता है, वह इसे किसी भी स्तर पर चालू कर सकता है।

उच्चतर, माध्यमिक, निम्न स्तर एवं  उच्च स्तर की यदि बात की जाए तो यह सेंटर एवं इसकी लागत 5 से 7 लाख तक की हो सकती है, जिसमें आप एक बड़े से हॉल को रेंट पर लेकर सर्व सुविधा युक्त मैश का निर्माण कर सकते हैं एवं एक अच्छे भोजन की क्वालिटी रख सकते हैं। उसके साथ  प्रशिक्षित खाना बनाने वालों को रख सकते हैं। मध्यम स्तर पर यदि लागत की बात की जाए तो यह 2 से 3 लाख के मध्य आएगी।

जिसमें एक दुकान प्रशिक्षित कुक व डिलीवरी बॉय एवं उसके साथ ही मध्यम स्तर के संसाधनों को शामिल किया जा सकता है। यदि निम्न स्तर पर व्यवसाय की बात की जाए तो इसकी लागत 1 से ₹50000 तक की आ सकती है और यदि यह कार्य आप अपने निजी किचिन से शुरू करना चाहते हैं तो लागत इससे भी कम आ सकती है।

जिसमें आप परिवार के सदस्यों की सहायता से भोजन का निर्माण कर अपने समीप रहने वाले व्यक्तियों को भोजन की सप्लाई कर सकते हैं। जैसा कि हम देखते हैं। अधिकतर भारतीय घरों में भोजन पकाने की जिम्मेदारी घर की महिलाओं के पास होती है, इसलिए भारतीय परिवेश में महिलाएं जो होती है।

वह खाना बनाने में निपुण होती हैं। यदि ऐसी कोई महिला किचिन व्यवसाय शुरू करना चाहती है तो वह आसानी से कर सकती है और अपने हाथ के बने खाने को लोगों तक टिफिन के रूप में भेज सकती है, जिसके बदले में उसे पर्याप्त पैसा भी मिलेगा।

यह भी पढ़े: आइसक्रीम बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

टिफिन बिजनेस के लिए स्थानीय योजना

इस व्यवसाय को चालू करने के लिए आपको स्थानीय स्तर पर ही रिसर्च करना होगा और इसके द्वारा ही आप उपयुक्त स्थान का चुनाव कर सकते हैं। क्योंकि टिफिन सर्विस एक ऐसे स्थान पर होना चाहिए, जहां व्यक्ति आसानी से बैठ सके और आराम के साथ बैठकर भोजन कर सके, आसपास किसी भी तरीके का शोर शराबा या फैक्ट्रियां नहीं होना चाहिए एवं ग्राहकों की उपलब्धता भी आसानी से हो, यातायात के साधन भी सुलभ हो, उस स्थान के आसपास यदि किराए के मकान में रहने वाले लोग, हॉस्टल या ऑफिस में काम करने वाले लोग, यदि रह रहे हैं तो वह उपयुक्त है।

यदि भोजन सुविधा लेने वाले व्यक्ति टिफिन सेंटर के आस पास होंगे तो उन तक खाना गरम भी भेजा जा सकता है। यदि सेंटर से दूरी बहुत अधिक हुई तो उन तक टिफिन पहुंचते समय वह ठंडा भी हो सकता है। स्कूल ऑफिस और कार्यालयों की दूरी टिफिन सेंटर से यदि 5 से 7 किलोमीटर है तो यह पर्याप्त है।

टिफिन के व्यापार के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • टिफिन की सर्विस के लिए मार्केट में किस तरह के रेट चल रहे हैं पहले इसकी जानकारी होना आवश्यक है।
  • बिजनेस को शुरू करने के लिए इसका फायदा व नुकसान दोनों ही पहलुओं को सोचना होगा।
  • आपको इस व्यापार के लिए ऑनलाइन ऑफलाइन सर्विस लोगों के लिए प्रोवाइड करनी होगी।
  • इस व्यापार के लिए रजिस्ट्रेशन के बारे में जानकारी और आपको मार्केटिंग करने के सही तरीके की जानकारी होनी चाहिए।
  • टिफिन सर्विस की शुरूआत आप 5 किलोमीटर के दायरे के अंदर कर सकते हैं। जैसे आपका व्यापार बढ़ने लगे इसको आप बढ़ा भी सकते हैं।
  • टिफिन सर्विस के लिए आपको रो मटेरियल और सभी प्रकार के सामानों की सही जानकारी व समझ होनी चाहिए।
  • आप अपने आसपास के कॉलोनी ऑफिसों में अपने व्यापार को जोड़ने की कोशिश करें, जिससे आपका व्यापार आगे बढ़ेगा।

टिफिन बिजनेस के लिए जगह

टिफिन सेंटर शुरू करने के लिए आपको थोड़ा बहुत निर्माण कार्य भी करवाना होगा। टिफिन बिजनेस शुरू करने के लिए आप एक दुकान किराए पर भी ले सकते हैं। इसके अलावा आप एक अच्छी लोकेशन पर निर्माण भी करा सकते हैं, जहां से ऑफिस एवं कार्यालयों की दूरी कम हो। यह उद्यमी पर निर्भर करता है कि वह व्यवसाय खुद के निजी निवास पर चालू करना चाहता है या दुकान किराए पर लेकर व्यवसाय शुरू करना चाहता है।

यदि आप अपने व्यवसाय में कम निवेश करना चाहते हैं तो आप अपने स्वयं के स्थान या किचन से भी यह  व्यवसाय शुरू कर सकते हैं, जिससे कि आप का किराया बच जाएगा। लेकिन जगह का पर्याप्त ध्यान रखा जाए, जहां यदि कोई ग्राहक आ कर बैठ कर खाना चाहे तो उसे एक साफ सुथरा व्यवस्थित स्थान मिल सके, इसके लिए आपको किचन के साथ-साथ एक कमरे की भी आवश्यकता होगी।

टिफिन बिजनेस के लिए उपकरण

टिफिन व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको किसी विशेष उपकरण या संसाधनों की आवश्यकता नहीं होती है। इसके लिए आपको गैस चूल्हा, पर्याप्त बर्तन जिन्हें किचन में उपयोग किया जाता है। कुछ टिफिन की आवश्यकता होगी जो कि आप के ग्राहकों पर निर्भर करेगी एवं यदि आप अपने व्यवसाय में ग्राहकों को उसी स्थान पर बैठकर खाने की सुविधा देना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ टेबल और चेयर की भी आवश्यकता होगी।

गर्मी के मौसम के लिए आपको कूलर या पंखा, याद रहे व्यवसायिक क्षेत्र में कार्य करने के लिए आपको कमर्शियल सिलेंडर की आवश्यकता होती है, जिसका रेगुलेटर भी अलग होता है। इस सिलेंडर पर भट्टी प्रेशर से गैस भेजने में सक्षम होती  है। आप अपने सेंटर पर कुछ अलमारी उद्यमी के लिए एक काउंटर आदि का भी निर्माण कर सकते हैं। सब्जियों आदि को स्टोर करने के लिए एक फ्रिज की आवश्यकता होगी।

यदि आप अपना व्यवसाय अपनी निजी किचिन से ही चालू करना चाह रहे हैं तो फिर आपको किसी भी अन्य सामान की आवश्यकता नहीं होगी। आप अपने किचन के सामान या बर्तनों को उपयोग करके भी टिफिन सेंटर चालू कर सकते हैं।

टिफिन के व्यापार के लिए कच्चा सामान

भारत में टिफिन सर्विस का व्यापार कहीं से भी शुरू करने के लिए आपको बहुत सारे कच्चे सामानों की आवश्यकता पड़ती है। उनमें मुख्यतःअलग-अलग प्रकार की दालें, आटा, तेल, रिफाइंड, चीनी, चाय, घी आदि चीजों की आवश्यकता होती है। इन सभी चीजों को आप बड़ी-बड़ी होलसेल की मार्केट से एक साथ खरीद सकते हो।

अगर आप इकट्ठा सामान खरीदोगे तो आपको कम लागत में आसानी से मिल जाएगा और आपका बार-बार ट्रांसपोर्ट पर हो रहा खर्चा भी बच जाएगा। इन सब सामानों का खराब होने का भी कोई डर नहीं होता है। इसके अलावा कुछ डेयरी के भी समान होते हैं, उनके लिए आप प्रतिदिन खरीदोगे तो ही सही रहेगा।

टिफिन बिजनेस के लिए स्टाफ का चयन

टिफिन सेंटर बिजनेस एक ऐसा व्यवसाय है, जिसमें व्यवसायी को स्वादिष्ट भोजन उपलब्ध कराना होता है। इसके लिए आपको प्रशिक्षित लोगों की आवश्यकता होगी। जिनको भोजन बनाने के कला का ज्ञान हो और वह विशेष व्यंजनों को भी बना सकते हो। यदि उद्यमी व्यक्ति को एक अच्छा स्वादिष्ट भोजन प्रदान करता है तो ग्राहक कभी भी आपके टिफिन सेंटर को छोड़कर नहीं जाएगा।

इसलिए जब भी आप स्टाफ की भर्ती करें तो एक बार उनके हाथ का बना भोजन अवश्य चखें। यदि उसमें घर के खाने जैसा स्वाद हो तो आप उन्हें इस कार्य हेतु रख सकते हैं। इसके अलावा आपको डिलीवरी ब्वॉय की भी आवश्यकता होगी, जो कुक के द्वारा बनाए गए भोजन को एक स्थान से उसके निश्चित स्थान तक भेजेगा एवं वह समय का पर्याप्त ध्यान रखेगा। ताकि भोजन सही समय पर सही स्थान पर भेजा जा सके।

टिफ़िन सर्विस नेम आइडियाज

टिफ़िन सर्विस बिज़नेस के लिए आपको किसी नाम की भी आवश्यकता रहेगी, इसलिए हम यहाँ पर आपको टिफ़िन सर्विस नाम के बारे में कुछ आईडिया (tiffin service name ideas in hindi) देने जा रहे है।

  • सात्विक भोजन
  • घरेलू रसोई
  • ग्रीन टिफ़िन
  • टेस्टी बाईट
  • मास्टर चीफ
  • अन्नपूर्णा
  • डब्बावाला
  • टिफिन जोन
  • राधे टिफिन सर्विस

यह भी पढ़े: फास्ट फूड बिजनेस कैसे शुरू करें?

लाइसेंस फॉर रजिस्ट्रेशन

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको कुछ रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की आवश्यकता होती है। लेकिन फिर भी आपको अपने खाने को स्वादिष्ट है अच्छे प्रकार के सामानों से बनाना होगा, क्योंकि कभी भी आपके खाने का निरीक्षण करने के लिए कोई फ़ूड अधिकारी आपके पास आ सकता है, इसीलिए थोड़ा सतर्क रहें। निम्न लाइसेंस की और रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता इस व्यापार में पड़ सकती है।

1. शॉप एक्ट लाइसेंस

यदि कोई व्यवसाई अपने टिफिन व्यवसाय को किसी दुकान से चालू करना चाहता है तो उसे इसके लिए शॉप एक्ट लाइसेंस की आवश्यकता होती है।

2. एफएसएसएआई लाइसेंस

यदि कोई व्यवसाय टिफिन सेंटर शुरू करना चाहता है। या खाने के व्यापार को शुरू करना चाहता है तो उसके लिए यह अति आवश्यक है कि वह अपने खाने की क्वालिटी को मेंटेन करें। उसके भोजन में प्रयोग होने वाले मसाले एवं सब्जियां स्वास्थ्यवर्धक एवं शुद्ध होना चाहिए। इसके लिए उसे फूड लाइसेंस लेना होता है और यह लाइसेंस आपको आपके खाने की क्वालिटी को जांचने के बाद प्रदान किया जाता।

3. ट्रेड लाइसेंस

ट्रेड लाइसेंस ऐसा लाइसेंस होता है, जो किसी भी प्रकार के व्यवसाय को चालू करते समय आपको उस शहर के म्युनिसिपल कारपोरेशन के द्वारा प्रदान किया जाता है। क्योंकि टिफिन व्यवसाय भी व्यापार की श्रेणी में आता है, इसलिए यह लेना भी आवश्यक है।

4. फायर एनओसी

यदि आपके व्यवसाय में आग से संबंधित कार्य किया जाता है, जहां पर आग लगने का जोखिम है तो आपको फायर डिपार्टमेंट से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेना होता है।

यदि आपका टिफिन सेंटर आपकी निजी किचन से शुरू होता है तो आपको यह सारे सर्टिफिकेट लेने की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन यदि आप अपना व्यवसाय किसी दुकान और एक बड़े स्तर पर चालू करना चाहते हैं तो आपको यह सभी सर्टिफिकेट लेने होते हैं।

अन्य की तुलना में टिफिन की कीमत

यदि आपने अपने टिफिन की कीमत को बहुत अधिक रखा है। वही आपके प्रतिद्वंदी ने यदि अपनी कीमत को कम रखा है तो इसका नुकसान आपके बिजनेस को होगा, इसलिए कीमत को इतना रखा जाए जिससे कि कोई भी व्यक्ति इसे खरीद सके।

टिफिन में खाने का मेन्यू निश्चिय करना

आपके द्वारा प्रदान किए जाने वाले टिफिन का मैन्यू क्या होना चाहिए। यह उस स्थान पर निर्भर करता है, जहां आप अपना सेंटर खोलना चाहते हैं। इसका स्वाद और व्यंजन उस जगह और व्यक्तियों पर निर्भर करता है।

सामान्यतः टिफिन में वही भोजन प्रदान किया जाता है जो हमारे घरों में बनता है। जैसे – दाल, चावल, सब्जी, रोटी सलाद आदि और सप्ताह में एक दिन जोकि सामान्यतः रविवार होता है, उस दिन कुछ विशेष व्यंजन प्रदान किए जाते है। अगर आप शाकाहारी खाना प्रदान करते हैं तब आप उस दिन कुछ विशेष व्यंजन दे सकते हैं, साथ में कुछ मिठाई भी।

खाने का टेस्ट

यदि आप अपने टिफिन में दिए जाने वाले खाने का टेस्ट अच्छा रखते हैं तो ग्राहक कभी भी आपके सेंटर को छोड़कर नहीं जाएगा। खाने का टेस्ट ऐसा होना चाहिए, जो सामान्यतः हमारे घरों में मिलता है। इसलिए जब भी आप टिफिन सेंटर शुरू करें तो जगह और व्यक्तियों के स्वाद के हिसाब से अपने खाने का मैन्यू तैयार करें।

खाने के टिफिन की कीमत

यह बहुत ही महत्वपूर्ण सवाल है कि हमारे द्वारा प्रदान किए जा रहे टिफिन या भोजन की कीमत कितनी रखी जाए। इसके लिए मैं आपको सुझाव देना चाहूँगा कि टिफिन की कीमत इतनी होना चाहिए, जिससे उसे हर स्तर के लोगों के द्वारा वहन किया जा सके।

एक विद्यार्थी, एक रोजगार करने वाला व्यक्ति दोनों ही उसे खरीद सकें सामान्यतः यह कीमत जगह पर निर्भर करती है। फिर भी एक कीमत की यदि बात की जाए तो टिफिन की कीमत अट्ठारह सौ से 2200 के आसपास ही होना चाहिए।

टारगेट पर ग्राहक

अपने टिफिन सर्विस के व्यापार के लिए आप जिन जिन जगहों पर टिफिन सर्विस प्रोवाइड कर सकते हो उन सभी के बारे में जानकारी निम्न प्रकार से है:

पढ़ाई के लिए घर से दूर विद्यार्थी

आजकल बड़े बड़े शहरों में विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के लिए अपने घरों से दूर रहते हैं। ऐसे में उनको घर का जैसा खाना नहीं मिलता ऐसे में आप उनको अपने कस्टमर बना सकते हो।

नौकरी के लिए घर से बाहर रह रहे लड़के

बहुत से लोग नौकरी करने के उद्देश्य से अपने घर और परिवार से दूर एक अनजान शहर में अजनबी की तरह रहना पड़ता है। ऐसे में वह अपने खाने में बाहर होटलों से खाना पसंद करते हैं। क्योंकि घर जैसा खाना नहीं मिलता। इन लोगों को भी आप अपने व्यापार मैं टारगेट कस्टमर बना सकते हैं।

नौकरी पेशा महिलाएं

अक्सर महिलाएं भी घर से बाहर जाकर नौकरी करती है। अपनी दिनचर्या में वह इतना व्यस्त होती है कि अपने घर के खाने के लिए टाइम ही नहीं निकाल पाती। ऐसे में आप उन महिलाओं को भी अपना कस्टम बना सकते हैं।

स्कूल व कॉलेज

बहुत सारे स्कूल अपने सभी विद्यार्थियों में खाना प्रदान करते हैं, ऐसे में आप उन विद्यालयों में कांटेक्ट कर सकते हैं। आपके लिए अपने व्यापार को बढ़ाने के लिए इससे अच्छा स्कोप हो ही नहीं सकता। इसके अलावा आप कॉलेज की कैंटीन का भी कांटेक्ट ले सकते हैं, वहां पर भी आपका काम अच्छा चल जाएगा।

टिफिन व्यवसाय में मिलने वाला लाभ

यह व्यवसाय बहुत ही लाभदायक होता है, इसमें आप एक अच्छा लाभ कमा सकते हैं। एक टिफिन की कीमत जो सामान्यतः ₹2000 होती है। इसको बनाने की लागत 1200 रुपए के आसपास आती है। यानी कि आप एक टिफिन पर ₹800 तक बचा सकते हैं। इस प्रकार आप जितने टिफिन की सप्लाई करेंगे आपका प्रॉफिट उतना ही बढ़ता जाएगा।

टिफिन व्यवसाय में जोखिम

जोखिम व्यवसाय का एक अभिन्न अंग है। अन्य व्यवसाय की तरह ही इस व्यवसाय में भी जोखिम होती है। लेकिन यह उतनी अधिक नहीं है। यदि आप जोखिम से होने वाले नुकसान से बचना चाहते हैं तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा:

1. खाने का स्वाद

आपको अपने व्यापार में खाने का स्वाद अन्य लोगों की तुलना में अच्छा देना होगा ताकि आपके कस्टमर बने रहे और और अधिक संख्या में कस्टमर बन जाए। अगर खाने का स्वाद अच्छा नहीं होगा तो आपके व्यापार पर बहुत गलत प्रभाव पड़ सकता है।

2. आपके प्रतिद्वंदी के टिफिन की कीमत

हो सकता है आपका कोई प्रतिद्वंदी आपके टिफिन की कीमत से भी कम कीमत में अपनी टिफिन सर्विस को लोगों के लिए प्रोवाइड करें। यह आपके लिए व्यस्त हो सकता है।

3. खाने के सामान पर अचानक तेज कीमत बढ़ने का डर

टिफिन के व्यापार में हो सकता है खाद्य पदार्थों पर अचानक से रेट बढ़ जाए जो कि आपके व्यापार के लिए और खतरे की बात हो सकती है। ऐसे में आप को कम पर फिर मिल पाएगा और थोड़े और इसके लिए आपको तैयार भी रहना होगा।

मार्केटिंग कैसे करें?

किसी भी व्यवसाय की प्रगति उसकी मार्केटिंग पर निर्भर करती है। आज के कमर्शियल युग में व्यक्ति अपने व्यवसाय एवं संस्थान का जितने अच्छे तरीके से मार्केटिंग एवं उसका प्रचार करवाता है, उसके पास ग्राहकों की तादाद उतनी ही अधिक होती है।

अपने व्यवसाय को प्रसिद्ध करने के लिए और लोगों तक अपने व्यवसाय की जानकारी पहुंचाने के लिए मार्केटिंग प्रमोशन या एडवर्टाइजमेंट करना बहुत अधिक जरूरी होता है। इसके लिए आप पंपलेट छपवा सकते हैं, न्यूज़ पेपर में ऐड निकलवा सकते हैं।

अपने आसपास लोगों को व्यक्तिगत जानकारी भी दे सकते हैं एवं स्कूल कॉलेजों और ऑफिसों में जाकर भी आप पंपलेट बांट सकते हैं। इसके अलावा आप लोकल चैनल पर अपने संस्थान का ऐड भी निकलवा सकते  है।

ऑनलाइन मार्केटिंग

आप टिफिन सर्विस के व्यापार को भारत में कहीं भी शुरू करना चाहते हैं इसके लिए आप ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से प्रचार कर सकते हो या तो आप खुद की वेबसाइट बनाकर उस के माध्यम से अपने टिफिन सर्विस का ऐड उसमें दे सकते हो। इसके अलावा फेसबुक इंस्टा व्हाट्सएप इन सभी में भी अपने व्यापार का विवरण दे सकते हो, इससे लोगों को आपके व्यापार के बारे में पता चलेगा।

टिफिन के व्यापार के लिए पेमेंट की व्यवस्था

यह व्यापार शुरू करने के लिए आपको यह भी निश्चित करना होगा कि आप टिफिन की पेमेंट किस तरह से लेना चाहते हो। आप दो प्रकार से इसके पेमेंट ले सकते हो एक तो टोकन लोगों को देखकर इसके अलावा ऑनलाइन पेमेंट की व्यवस्था भी कर सकते हैं, जो कि आज के समय के हिसाब से बहुत जरूरी है।

टिफिन सर्विस के साथ जरूरी ओर जरूरी काम

जब आप टिफिन सर्विस के व्यापार को शुरू करते हो तो इसमें टिफिन सर्विस के अलावा आप किसी कॉलेज स्कूल बर्थडे पार्टी या किसी भी छोटे-छोटे समारोह में भी खाने का आर्डर ले सकते हो। यह आपके व्यापार के लिए फायदेमंद और मुनाफे वाला हो सकता है।

भारत में टिफिन सर्विस के व्यापार के लिए इंप्रूवमेंट के स्कोप

टिफिन सर्विस के व्यापार के लिए अपने व्यापार में और अधिक इंप्रूवमेंट के लिए आपको अपनी टिफिन सर्विस कुछ इस तरह से रखनी होगी ताकि लोगों का रिस्पांस अच्छा मिले।

टिफिन सर्विस में इंप्रूवमेंट के स्कोप ग्राहकों के फीडबैक से भी अच्छे मिल जाते है। थोड़े-थोड़े समय के बाद में अपने मैन्यू में अलग-अलग नई प्रकार की चीजों को जोड़ना। समय-समय पर आधुनिक टिफिन ओं का प्रयोग ग्राहकों के लिए करना और मैन्यू में भी हमेशा बदलाव करते रहना चाहिए, इससे आपके बिजनेस में बहुत अधिक इंप्रूवमेंट हो जाएगा।

FAQ

टिफिन सर्विस का व्यापार किस जगह से शुरू किया जा सकता है?

बड़े-बड़े महानगरों और शहरों से।

क्या टिफिन सर्विस के व्यापार के लिए भी रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होता है?

जी हाँ।

टिफिन सर्विस बिजनेस के लिए जरूरी सामग्री कौन-कौन सी होती है?

मसाले, दाल, आटा, चावल, और टिफिन आदि।

भारत में टिफिन सर्विस की शुरुआत कितने रुपए से कर सकते हैं?

20 हजार से

भारत में टिफिन सर्विस की शुरुआत कहां से करना बेहतर होता है?

अपने घर से

टिफिन सर्विस के व्यापार में कितना मुनाफा कमाया जा सकता है?

शुरुआत में 20 से 30 हजार

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने बात की है टिफिन व्यवसाय कैसे शुरू किया जाए (Tiffin Service Business Plan in Hindi)। उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और टिफिन व्यवसाय से संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्राप्त हुए होंगे।

यह भी पढ़े

Leave a Comment